हॉर्स टे्रडिंग पर ये क्या बोल गये कॉमेडियन ख्याली,इन नेताओं की उपस्थिति ने चौंकाया

तहलका न्यूज,बीकानेर। राजस्थान में सरकार नाम की कोई चीज नहीं है। यहां सता पक्ष व विपक्ष बांड़ेबंदी में है। ऐसे में आम आदमी के कामकाज ठप्प हो गया है। राजस्थान की आवाम बिल्कुल चिंता न करें। उनके काम के लिये आम आदमी कार्यकर्ता तैयार है। यह बात आप नेता ख्याली ने सर्किट हाउस में पत्रकारों से रूबरू होते हुई कही। उन्होंने कहा कि आप प्रदेश की सभी विधानसभा क्षेत्रों से चुनाव लड़ेगी। उन्होंने 192 सीटें जीतने की बात कहते हुए कहा कि हॉर्स टे्रेडिंग की बातें चल रही है। लेकिन घोड़े तो खुले में घूमते है। यह गधों की टे्रर्डिग है। जिसकी वजह से होटलों में बैठे है जनता के चुने हुए जनप्रतिनिधि। खुद के चुनाव लडऩे के सवाल का जबाब देते हुए ख्याली ने कहा कि वो राजनीति करने नहीं राजनीति बदलने आया हूं। मैं लोगों को यह बताने आया हूं कि राजनीति का मतलब चुनाव लडऩा नहीं है। राजनीति अलग चीज है और चुनाव लडऩा अलग है। उन्होंने कहा कि सरकार व विपक्ष बाड़ेबंदी में है। ऐसे आमजन के काम ठप्प हो गया है। ऐसे में राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए। बात हॉर्सटे्रडिग़ की हो रही है। जहां सरकार व विपक्ष बाड़ेबंदी राजस्थान में पांच लाख सदस्य बन चुके है। विधानसभा लेवल पर एक बड़ी जनसभा की जाएगी। जिसके तहत प्रत्येक जिले की विधानसभाओं में इन दिनों बैठकें की जा रही है। आज बीकानेर में बैठक की गई है। जिसमें पार्टी को मजबूत बनाने का मंत्र कार्यकर्ताओं को दिया गया है। मूसेवाला के कत्ल पर बोले की इस वारदात में शामिल सभी को पकड़ लिया गया है।
जिला सम्मेलन कर पार्टी जनाधार बढ़ाने की कवायद
दो राज्यों में आम आदमी की सरकार बनने के बाद अब पार्टी का फोकस राजस्थान की ओर है। जिसकी जमीन तलाशने के लिये पार्टी हर विधानसभा क्षेत्र में सम्मेलन के जरिये पार्टी का जनाधार बढ़ाने का प्रयास कर रही है। इसी कड़ी में आम आदमी पार्टी का जिला सम्मेलन आज सर्किट हाउस में रखी गई। पार्टी के नेता ख्यालीराम सहारण ने आएं हुए कार्यकर्ताओं की बैठक लेते हुए कहा कि जिले के हर विधानसभा क्षेत्रों में सम्मेलन किया जाना है। बीकानेर में भी एक बड़ी मीटिंग आगामी दिनों में रखी जाएगी। जिसको लेकर ख्यालीराम ने कार्यकर्ताओं को दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि आप के लिये प्रदेश में अच्छा माहौल बनता जा रहा है। दोनों ही पार्टियों में गुटबंदी चरम पर है। इसका फायदा निश्चित रूप से आप को मिलेगा। उन्होंने कार्यकर्ताओं को जोश के साथ अपने अपने विधानसभा क्षेत्रों में पार्टी को मजबूत बनाने के लिये काम करने का आह्वान किया। साथ ही सदस्यता अभियान के जरिये नये सदस्यों को पार्टी से जोडऩे की बात कही। इससे पहले पार्टी कार्यकर्ताओं ने ख्याली का पुष्प गुच्छ भेंटकर स्वागत किया।
ये रहे मौजूद
आप के सम्मेलन में ऐसे कई नेता मौजूद रहे। जिनकी अधिकृत रूप से तो पार्टी में एंट्री नहीं हुई है। लेकिन उनकी उपस्थिति कही न कही चर्चा का विषय बनी हुई थी। इनमें कॉमरेड रामगोपाल विश्नोई,पूर्व विधायक के पुत्र खुशाल पंवार शामिल है। इसके अलावा जयप्रकाश,पुनीत ढ़ाल,पूनसा पुरोहित,हड़मान चौधरी,रवि व्यास,जगदीश,किसन व्यास,शारदा पन्नू,उषा चौधरी,मांगे खान सहित अनेक कार्यकर्ता शामिल रहे।
आपस में फिर भिड़े कार्यकर्ता
उधर बैठकों की सूचना नहीं देने और वरिष्ठ कार्यकर्ताओं की उपेक्षा को लेकर आज फिर आप कार्यकर्ताओं ने ख्याली को खरी खोटी सुनाई। एड हनुमान चौधरी व पूनसा पुरोहित ने आरोप लगाया कि पार्टी के जन्म से लेकर अब तक जिले में जनाधार बढ़ाने वाले कार्यकर्ताओं को तवज्जो नहीं दी जा रही है। ऐसे में किसी तरह पार्टी अपने आपको यहां मजबूत करेगी। हालांकि बाद में ख्याली ने सभी को समझाईश कर इसके लिये दिशा निर्देश भी दिए।
बिना कप्तान के बनी है टीम
हालात यह है कि आप पार्टी पिछले लंबे समय से बिना कप्तान के ही केन्द्र व राज्य सरकार से लड़ाई लडऩे का काम कर रही है। ऐसे में बिना किसी संगठन में पार्टी में कार्यकर्ताओं को एक रख पाना अब टेढ़ी खीर होता जा रहा है। एक ओर तो पार्टी राजस्थान में सरकार गठन के सपने देख रही है। वहीं दूसरी ओर जिले में किसी भी विधानसभा क्षेत्र में पार्टी का संगठनात्मक ढ़ांचा ही नहीं है। ऐसे में नेता अपनी अपनी ढफली अपना अपना राग अलापने वाली स्थिति में है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.