पश्चिमी राजस्थान फिर बारिश की उम्मीद,मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

जयपुर।प्रदेश में बादलों के जमघट से मौसम सुहाना बना हुआ है। दक्षिणी राजस्थान के बाद अब पश्चिमी राजस्थान पहुंचे बादलों ने तेज बारिश तो नहीं की लेकिन रिमझिम बारिश का दौर जारी है। बीकानेर में सोमवार रात से शुरू हुई रिमझिम रुककर लगातार तीसरे दिन भी हो रही है। मंगलवार रात से बुधवार सुबह तक बीकानेर में रिमझिम बारिश चलती रही। गांवों में कहीं कहीं मध्यम दर्जे की बारिश हुई है।मौसम विभाग की ओर से जारी सेटेलाइट चित्र में बीकानेर पूरी तरह बादलों से भरा हुआ नजर आ रहा है। पश्चिमी राजस्थान में बीकानेर के अलावा चूरू, झुंझुनू, नागौर, जैसलमेर, जोधपुर, पाली में भी बारिश की उम्मीद जताई है। इतना ही नहीं प्रदेश की राजधानी जयपुर, जयपुर शहर, दौसा, अजमेर, राजसमंद, सिरोही, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, उदयपुर, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, बाडमेर व जालौर में भी बारिश की उम्मीद की जा रही है।उम्मीद की जा रही है कि अगले दो-तीन दिन तक पश्चिमी राजस्थान में मौसम इसी तरह बना रहा सकता है। बादलों के कारण दोपहर में धूप कम हो रही है। यही कारण है कि प्रदेश के अधिकांश जिलों में तापमान भी गिर रहा है। बीकानेर में अधिकतम तापमान 34.9 डिग्री सेल्सियस है जबकि न्यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस तक आ गया है। पश्चिमी राजस्थान के जिलों में कमोबेश इतना ही तापमान रहने से गर्मी का अहसास कुछ कम हो गया है।

पूरा सावन बरसा

अर्से बाद ये पहला अवसर है जब बीकानेर में सावन के महीने में लगभग हर रोज बारिश हुई है। सावन के बीस दिनों तक रिकार्ड बारिश ने बीकानेर के तालाब भी लबालब कर दिए हैं। हर्षोलाव तालाब में इस बार पिछले दस साल का सर्वाधिक पानी है। वहीं देवीकुंड सागर में भी काफी पानी दिखाई दे रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.