साइबर पीडि़तों को अभयदान दे रही है यह सेल

तहलका न्यूज,बीकानेर। साइबर अपराध पर लगाम लगाने के लिए जिला पुलिस अधीक्षक योगेश यादव की पहल अब रंग लाने लगी है। 28 जनवरी को गठित साइबर क्राइम स्पोट सेल साइबर फ्रांड के पीडि़तों के लिये वरदान साबित हुई है। महज 80 दिनों में इस सैल ने पीडि़तों के 14 लाख रूपये वापिस दिलावाकर लोगों को राहत प्रदान की है। सैल के प्रभारी रमेश सर्वेटा की अगुवाई में 6 सदस्यीय टीम आईटी विशेषज्ञों की मदद से ऑनलाइन ठगी के शिकार पीडि़तों खाते को फ्रीज कराने में कामयाब हुई है। अब तक सैल के समक्ष 160 शिकायतें दर्ज हुई। जिसमें में से करीब 14 लाख रूपये पीडि़तों के खातों में रिफंड करवा चुके है। इसने कोटगेट थानान्तर्गत जमालशाह के 83 हजार,नयाशहर थाना क्षेत्र के लोकेश स्वामी के 98 हजार,जेएनवीसी इलाके भागीरथ सिंह के 74 हजार रूपये होल्ड करवाएं जा चुके है। अभंय कमांड में चल रहे सैल के ऑफिस की ओर से एक हैल्पलाइन नंबर भी जारी किये गये है। प्रभारी सर्वेटा बताते है कि वे परिवादी से लिखित शिकायत नहीं ली जाती और न ही कोई दस्तावेज। बल्कि हेल्पलाइन पर दर्ज शिकातय के बाद सैल की ओर से कॉल किया जाता है। जरूरत वाले दस्तावेजों के लिये संबंधित थाने को इसकी इतला दी जाती है। वो ही परिवादी से दस्तावेज लेकर सैल को भेजता है। उन्होंने आमजन से अपील की है कि किसी प्रकार की लॉटरी के मैसेज,ओटीपी संबंधित जानकारी,क्यू आर कोड के स्केन जैसी जानकारियां किसी से शेयर न करें ताकि ऑनलाइन ठगी से बचा जा सके।


Leave a Reply

Your email address will not be published.