पीबीएम में चोर-उचक्कों का डेरा, बजुर्ग का बैग व रुपए चोरी

बीकानेर. पीबीएम अस्पताल में चोर-उचक्कों व नशेडि़यों ने डेरा डाल रखा है। रात के समय मरीजों-परिजनों के मोबाइल-सामान व रुपए चुराने के अलावा वाहनों की चोरियों में यह बदमाश लिप्त हैं, लेकिन पुलिस व पीबीएम प्रशासन की अनदेखी के चलते इन पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। शनिवार रात को भी चार युवक पीबीएम अस्पताल के एच वार्ड से बेरोक-टोक घूमते मिले। युवकों ने एक मरीज के परिजन का मोबाइल चुराने की कोशिश की, जिसे किसी अन्य मरीज के परिजन ने देख लिया। उसने शोर मचाया, तो वह चारो भाग छूटे। बाद में सुरक्षा गार्ड व समाजसेवी हरिकिशन सिंह राजपुरोहित ने उनका पीछा किया। तब दो युवक भागने में कामयाब हो गए। दो को पकड़ लिया गया। सुरक्षा गार्डों ने सदर पुलिस व पीबीएम पुलिस चौकी को सूचना दी।जानकारी के अनुसार अलवर निवासी हरचंद पीबीएम अस्पताल में भर्ती हैं। वे जांच कराने गए थे कि पीछे से कोई वार्ड से उनका बैग ले गया, जिसमें 10 हजार 600 रुपए व अन्य कागजात थे। वहीं जनाना अस्पताल के बाहर पार्क में बैठे संतोष सिंह का रात को सोते समय कोई मोबाइल व पर्स चोरी कर ले गया। पर्स में 1360 रुपए थे।

प्रवेश पर रोक लगे
पीबीएम में रात को आवारा किस्म के कई युवक बेवजह घुमते हैं, जिससे आए दिन कोई न कोई वारदात होती है। ऐसे में पीबीएम व पुलिस प्रशासन ऐसे युवकों के खिलाफ सख्ती से पेश आए। रात के समय पीबीएम में प्रवेश व निकलने वाले द्वारों पर सुरक्षाकर्मी नियुक्त किए जाएं। बिना पास वालों को रात के समय एंट्री न दी जाए। – हरिकिशन सिंह राजपुरोहित, समाजसेवी

Leave a Reply

Your email address will not be published.