बीएड विद्यार्थियों के लिये उपयोगी सिद्ध होगी ये दो पुस्तकें

तहलका न्यूज,बीकानेर। स्थानीय राजकीय उच्च अध्ययन शिक्षा संस्थान में संस्थान के व्याख्याता दिनेश कुमार चावड़ा तथा डॉ सुमन सुथार द्वारा लिखित दो पुस्तकें एक जेंडर, विद्यालय तथा समाज दूसरी-समकालीन भारत और शिक्षा का लोकार्पण समारोह आयोजित किया गया। समारोह की मुख्य अतिथि कवयित्री डॉ रेणुका व्यास थी। उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि ये दोनों पुस्तकें बीएड के विद्यार्थियों के साथ-साथ आम शिक्षकों के लिए भी उपयोगी है ।विशिष्ट अतिथि जिला शिक्षा अधिकारी, निदेशालय रमेश कुमार हर्ष ने पुस्तकों को आधुनिक शैक्षिक चुनौतियों पर आधारित बताया। कार्यक्रम की अध्यक्षता बिनानी कन्या महाविद्यालय के प्रबंधक गौरी शंकर व्यास ने की। उन्होंने पुस्तकों की प्रश्नोत्तरी शैली की प्रशंसा की तथा सुझाव दिया कि निबंधात्मक शैली में भी इन पुस्तकों को लिखा जाना चाहिए। स्वागत भाषण में लेखक चावड़ा ने पुस्तकों के लेखन की प्रेरणा और रचना की प्रक्रिया पर प्रकाश डाला । कार्यक्रम में रीडर ब्रज नारायण व्यास ने पुस्तकों को परीक्षा उपयोगी बताते हुए लेखन की सार्थकता को उदाहरणों के साथ प्रस्तुत किया । संस्थान की प्राचार्या कमला कालेर ने आगंतुकों एवं स्टाफ के सदस्यों के प्रति आभार प्रदर्शित किया और इसी तरह लगातार लेखन के प्रति सजग रहने को कहा ।यह संस्थान उच्च अध्ययन हेतु शोध,पुस्तक लेखन, सोशल मीडिया के माध्यम से शिक्षकों का कार्यक्रम आदि का संचालन करती है। इस समय यूट्यूब के माध्यम से संवाद कार्यक्रम आयोजित किये जा रहे है । कार्यक्रम के अंत में मेहमानों को पुस्तकें भेट की गई एवं सम्मान स्वरूप शॉल व कलम उपहार दिया गया। सामारोह में संस्थान के सदस्यों के साथ- साथ शिक्षा और साहित्य से जुड़े गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.