फिर आवारा पशु के आतंक की भेट चढ़ा एक वृद्ध,निगम को नहीं कोई सरोकार

तहलका न्यूज,बीकानेर। शहर में आवारा पशु एक बार फिर आमजन के लिये जी का जंजाल बनते जा रहे है। जिसकी चपेट में आने से न केवल राहगीर चोटिल हो रहे है। बल्कि अकाल मौत का शिकार भी हो रहे है। ताजा मामला करमीसर क्षेत्र का है। जहां एक आवारा सांड ने घर के बाहर बैठे 60 वर्षीय वृद्ध के पैरों से कुचल दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल व लहुलूहान हो गया। आसपास के लोगों ने शोर मचाकर सांड को भगाया। जिसके बाद परिजनों ने वृद्ध को पीबीएम के ट्रॉमा सेंटर में भर्ती कराया। जहां इलाज के दौरान वृद्व ने दम तोड़ दिया। बताया जा रहा है कि वृद्ध के दिमाग में गहरी चोट लगने के कारण उनकी मौत हो गई। जानकारी मिली है कि 29 मई करमीसर के वार्ड नंबर 23 निवासी रामेश्वर अपने घर के बाहर बैठा था। अचानक वहां आए सांड ने उस पर हमला कर दिया। इससे वह नीचे पर गिर पड़ा।सांड उन्हें कुचलता हुआ आगे निकल गया। आसपास के लोगों ने शोर मचाकर सांड को भागाया। परिजन घायल वृद्ध को पीबीएम अस्पताल के ट्रॉमा सेंटर लेकर आए जहां आज इलाज के बाद वृद्ध ने दम तोड़ दिया। डॉक्टरों ने बताया कि रामेश्वर शरीर पर गहरी चोट लगी थी। जिस कारण उनकी मौत हो गई।
इससे पहले भी हो चुकी है ऐसी घटनाएं
ऐसा नहीं कि यह पहली बार हुआ है। आवारा पशुओं के आतंक ने पहले भी कई जनों की जान ली है। किन्तु नगर निगम इस ओर ध्यान ही नहीं दे रहा है। पिछले एक सप्ताह की कोचरों के चौक निवासी को आवारा पशु ने सिंग से गंभीर घायल कर दिया था। जिसके 15 टांके आएं है और उनका इलाज चल रहा है। यहीं नहीं शहर की सड़कों पर रोजाना आवारा पशुओं के आतंक से वाहन चालक चोटिल हो रहे है।
केवल एक ओर ही करता है निगम फोकस
नगर में चल रही अस्तित्व की लड़ाई के चलते निगम आयुक्त का ध्यान शहर की अन्य समस्याओं की ओर नहीं जा रहा है। लोगों का कहना है कि निगम जिस अभियान को एक बारगी चलाता है,बस उसका फोकस उसी पर रहता है। अभी अतिक्रमण की ओर निगम का फोकस ज्यादा है। जबकि अन्य समस्याओं यथा नालों की सफाई,आवारा पशु,यूडी टैक्स से निगम की आय बढ़ाना,रोड लाईटस,टूटी नालियों को दुरूस्त करवाना जैसी आमजन को होने वाली परेशानियों से निगम को कोई सरोकार नहीं है। निगम की इस कार्यप्रणाली से अब जनप्रतिनिधियों व प्रशासन जैसी व्यवस्थाओं से आमजन का विश्वास उठता जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.