जीवन-पृथ्वी को बचाने का कुछ इस तरह दिया गया संदेश,जाने पूरी खबर

तहलका न्यूज,बीकानेर। पर्यावरण दिवस पर अनेक आयोजन हुए। सरकारी व गैर सरकारी संस्थाओं के साथ साथ स्कूलों की ओर से तथा स्वयंसेवी संस्थाओं ने अपने अपने तरीके से जागरूकता का संदेश देकर जीवन व पृथ्वी को बचाने की गुहार लगाई।
हरित वाहिनी को हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना

 जिला कलक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी भगवती प्रसाद कलाल ने विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर कलेक्ट्रेट परिसर से जिला प्रशासन एवं राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के तत्वावधान में आयोजित कार्यक्रम में पर्यावरण हरित वाहिनी को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। साथ ही उन्होंने कलेक्ट्रेट कार्यालय में पौधों के गमलों में पौध रोपित किए।इस अवसर पर जिला कलक्टर ने कहा प्रत्येक नागरिका दायित्व है कि पर्यावरण को स्वच्छ बनाने में अपना योगदान दें। साथ ही इसके संरक्षण के लिए एकजुट होकर प्रयास करें।उन्होंने कहा कि आसपास के स्थान को स्वच्छ बनाएं, तालाब और अन्य जलस्रोतों को दूषित होने से बचाएं।सिंगल यूज प्लास्टिक का उपयोग 1 जुलाई से प्रतिबंधित- उन्होंने कहा कि सिंगल यूज  प्लास्टिक का उपयोग न करने का संकल्प लें। इन छोटे-छोटे कदमों से हम निश्चय ही पर्यावरण को स्वच्छ रख पाएंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी भगवती प्रसाद कलाल राजकीय सार्दूल स्पोटर्स (मतदान केन्द्र) पर वृक्षारोपण किया। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ओम प्रकाश व उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार ने ईवीएम वेयर हाऊस परिसर में वृक्षारोपण किया।राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी प्रदीप आसनानी ने बताया कि यह पर्यावरण हरित वाहिनी सम्पूर्ण बीकानेर शहर में घूमकर गीत, बैनर्स एवं फ्लाइस के माध्यम से सिंगल यूज प्लास्टिक  को उपयोग बंद करवाने हेतु जन-चेतना जागृत करने का काम करेंगी। उन्होंने जिला निर्वाचन अधिकारी व अधिकारियों को करोंजा का पौध प्रदान स्वागत किया। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ओम प्रकाश, उपखण्ड अधिकारी अशोक कुमार, तहसीलदार बिहारी लाल, डीएफओ वीरेन्द्र सिंह जोरा, राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी प्रदीप आसनानी,वैक्षानिक अधिकारी भूपेन्द्र सोनी, गरिमा मिश्रा, कनिष्ठ पर्यावरण अभियन्ता गिरिश व्यास, जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डीपी पचीसिया सहित बड़ी संख्या में आमजन उपस्थित रहे।

जीवन का आधार वृक्ष- जिला कलक्टर

  वृक्ष देव तुल्य है एवं इनका संरक्षण हमारा नैतिक कर्तव्य है ऑक्सीजन की मारामारी में वृक्ष हमारे लिए ईश्वर का स्वरूप है।  प्रत्येक युवा को आगे आकर इस अभियान में भागीदारी निभानी चाहिए।  यह शब्द पर्यावरण दिवस के अवसर पर जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद ने इंदिरा गांधी फाउंटेन पार्क, पब्लिक पार्क में वृक्षारोपण कार्यक्रम में कहे।  उन्होंने दि इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया की बीकानेर ब्रांच ,सेव पब्लिक पार्क कैंपियन व ग्रीन संकल्प अभियान का सामाजिक सरोकारों हेतु हौसला बढ़ाया व आगे आकर काम करने की बात कही।  इस अवसर पर बीकानेर ब्रांच अध्यक्ष सीए अंकुश चोपड़ा ने संस्था की गतिविधियों से जिला कलेक्टर को अवगत कराया व आगामी समय में पार्क को और अधिक हरा भरा बनाने की बात कही।विशेष अतिथि मेवा सिंह को ग्रीन वारियर के रूप में सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ओम प्रकाश ने अभियान की सराहना करते हुए सामाजिक संस्थाओं को पर्यावरण संरक्षण की मुहिम में भागीदारी निभाने हेतु आह्वान किया। कमल कल्ला ने युवाओं के समर्पण की तारीफ की एवं वृक्षारोपण किया। मोटिवेशनल गुरु डॉक्टर डॉ गौरव बिस्सा ने कहा कि पेड़ हमें जीवन के प्रति सकारात्मक सोचने वह आगे बढ़ने की प्रेरणा देते है। मोटिवेशनल गुरु चक्रवर्ती नारायण श्रीमाली ने इस अभियान को प्रेरणास्पद बताया। सेव पब्लिक पार्क कैंपेन के संयोजक एडवोकेट निमेष सुथार ने पेड़ों को लगाने के साथ-साथ उन्हें आगे बढ़कर पल्लवित को पोषित करने हेतु संकल्पित होने की बात कही। ग्रीन संकल्प अभियान के समन्वयक गोपाल जोशी ने ग्रीन संकल्प अभियान के 3 वर्ष पूर्ण होने व संस्था द्वारा इन 3 वर्षों में लगभग 20,000 पौधे लगाकर आम नागरिकों को संकल्प दिलवाने की जानकारी दी।  इस अवसर पर बीकानेर ब्रांच के वरिष्ठ सीए सदस्य बालकिशन मोदी, मुख्य कार्यकारिणी सदस्य सीए महेंद्र कुमार चुरा, ब्रांच उपाध्यक्ष सीए राहुल पच्चीसिया, ब्रांच कोषाध्यक्ष सीए अभय शर्मा, सिकासा अध्यक्ष सीए जसवंत सिंह बैद एवं अन्य सीए सदस्यों के साथ ज़िला उद्योग संघ के अध्यक्ष द्वारका प्रसाद पचीसिया, ग्रीन संकल्प के संरक्षक हेमाराम जोशी आदि उपस्थित रहे!इसी क्रम में बीकानेर ब्रांच के मई माह का सीए सदस्यों एवं सीए विद्यार्थियों के ई – समाचार पत्र का विमोचन निमेष जी सुथार जोधपुर हाई कोर्ट के वकील एवं श्री गोपाल जी जोशी जिला परिषद आई ई सी के द्वारा करवाया गया।

स्काउट व गाइड ने पौधरोपण, पौध वितरण
 राजस्थान राज्य भारत स्काउट व गाइड, मंडल मुख्यालय बीकानेर ने पौधरोपण, परिंडा बंधन और पौध वितरण के आयाम सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के साथ आयोजित कर विश्व पर्यावरण दिवस सेलीब्रेट किया।संस्था के सहायक राज्य संगठन आयुक्त मान महेंद्र सिंह भाटी ने बताया कि मुरलीधर व्यास नगर स्थित राजकीय महात्मा गांधी इंग्लिश मीडियम स्कूल में चल रहे कौशल विकास शिविर के अंतर्गत आयोजित इस कार्यक्रम में भूदान आयोग के अध्यक्ष लक्ष्मण कड़वासरा मुख्य अतिथि थे। पूर्व संयुक्त निदेशक (माध्यमिक शिक्षा) डॉ. विजय शंकर आचार्य, जिला शिक्षा अधिकारी (माध्यमिक शिक्षा, निदेशालय) रमेश हर्ष, रोटरी क्लब के सचिव राजीव माथुर एवं सदस्य आनंद आचार्य, गंगाशहर स्थानीय संघ के प्रधान भवानीशंकर जोशी एवं जसराज सिंवर ने विशिष्ट अतिथियों के रूप में कार्यक्रम में शिरकत की।इस दौरान सभी अतिथियों ने विभिन्न उदाहरणों के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण की महता प्रतिपादित की। इस अवसर पर शिविर में भाग लेने वाले प्रशिक्षणार्थियों ने विभिन्न प्रभावी प्रस्तुतियां पेश कर पर्यावरण संरक्षण आज के समय की आवश्यकता का संदेश दिया। इस दौरान बच्चों ने नृत्य, नाटक, गीत व कविताओं की प्रस्तुतियां दी। संस्था की प्राचार्या आमीना फातिमा ने स्वागत भाषण दिया। मान महेंद्र सिंह भाटी ने आभार प्रकट किया और स्काउट व गाइड के सामाजिक व सांस्कृतिक सरोकारों के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर स्थानीय संघ के सचिव घनश्याम स्वामी, गंगाशहर स्थानीय संघ के सचिव प्रभुदयाल गहलोत व उपप्रधान गिरिराज खैरीवाल, उतर पश्चिमी रेलवे के स्काउटर ओमप्रकाश आर्य, विनोद चौधरी, नीलम यादव, ऋतु गौड़ इत्यादि की सक्रिय सहभागिता रही। कार्यक्रम का संचालन हड़मान दान ने किया। इस दौरान सभी अतिथियों ने पौधरोपण किया और पेड़ों पर परिंडे बांधे। कार्यक्रम में शिरकत करने वाले सभी अतिथियों, संभागियों व अन्य आगंतुकों को तुलसी के पौधे का वितरण समाजसेवी नरेश चुघ के सौजन्य से किया गया।

विश्व पर्यावरण दिवस पर हुई चित्रकला प्रतियोगिता
 राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के स्थानीय कार्यालय द्वारा विश्व पर्यावरण दिवस पर रविवार को  विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए।     विभाग के क्षेत्रीय अधिकारी प्रदीप आसनानी ने बताया कि जिला उद्योग संघ रानी बाजार, बीकानेर में चित्रकला प्रतियोगिता का आयोजन  किया गया। प्रतियोगिता का आयोजन दो वर्गों में किया गया। मंचासीन अतिथि द्वारका प्रसाद पच्चीसिया एवं  विरेन्द्र किराडू द्वारा दोनों वर्गों में प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को पारितोषिक प्रदान किए गए तथा सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र वितरित किए गए। वरिष्ठ वर्ग में प्रथम स्थान आकाक्षा वर्मा, द्वितीय स्थान भूमिका सोनी एवं तृतीय स्थान पवन पंवार ने प्राप्त किया इसी प्रकार कनिष्ठ वर्ग में प्रथम स्थान यश झाबक, द्वितीय स्थान संयोगिता एवं तृतीय स्थान फलक पाल ने प्राप्त किया।  प्रदूषण नियंत्रण मण्डल द्वारा सभी प्रतिभागियों को उपहार स्वरूप पौधे दिए गए। पर्यावरण दिवस के अवसर पर क्षेत्रीय कार्यालय के अधिकारियों एवं करणी औद्योगिक संघ के प्रतिनिधियों द्वारा करणी औद्योगिक संघ के परिसर में पौधारोपण भी किया गया। इसी कड़ी में प्रदूषण नियंत्रण मण्डल एवं वन विभाग द्वारा साइस पार्क, मूर्ति सर्किल, बीकानेर में प्लास्टिक वेस्ट को हटाने हेतु श्रमदान किया गया तथा सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रतिबंध के संबंध में जागरूकता फैलाने हेतु नुक्कड़ नाटक का आयोजन भी किया गया। इसके अलावा शहर के सभी प्रमुख चौराहों पर सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को प्रतिबंधित करने हेतु होर्डिंग्स लगाए गये है। जागरूकता कार्यक्रम में 91.1 Radio city FM तथा 92.7 Big FM पर भी जिंगल्स के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जा रहा है।
अच्छा होगा अभिभावकों पौधा वितरण कर मनाया विश्व पर्यावरण दिवस
मुरलीधर व्यास नगर स्थित शयोना शिक्षण संस्थान की ओर से आज विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर बच्चों एवं उनके अभिभावकों को पौधा वितरण कर विश्व पर्यावरण दिवस मनाया गया। इस अवसर पर संचालिका राजकुमारी व्यास ने बताया कि शयोना शिक्षण संस्थान पर आने वाले बच्चों को समय-समय पर राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय स्तर पर होने वाले दिवसों के बारे में विशेष जानकारी उपलब्ध करवाते हैं तथा उन्हें संदेश देने के लिए उसी प्रकार की एक्टिविटी करवाई जाती है इसी श्रंखला में आज विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर बच्चों को पर्यावरण के प्रति जागरूक करने वह अपने जीवन में प्रत्येक नागरिकों को एक पौधा अवश्य लगाने का संकल्प लेने के लिए प्रेरित किया गया।शयोना शिक्षण संस्थान में वर्तमान में चल रहे ग्रीष्मकालीन शिविर में बच्चों को विभिन्न प्रकार की गतिविधियां सिखाई जा रही है जिससे आने वाले समय में बच्चों को उसका लाभ मिल सके।व्यास ने बताया कि बच्चों को हेड राइटिंग क्राफ्ट कुकिंग ड्राइंग पेंटिंग सहित अनेक प्रकार की गतिविधियां सिखाई जा रही है।
मुरलीधर व्यास नगर नागरिक समिति ने  किया पौधरोपण
विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर मुरलीधर व्यास नगर नागरिक समिति में मुरलीधर व्यास नगर के पानी की टंकी पंप स्टेशन के पास पौधा रोपण किया गया।इस अवसर पर डॉ विजय आचार्य ने अपने उद्बोधन में कहा कि आज संपूर्ण पृथ्वी पर मानव अपने निजी स्वार्थों के कारण पेड़ों का कटाव तेजी से करता जा रहा है जिससे पर्यावरण संतुलन बिगड़ रहा है और ग्लोबल वार्मिंग बढ़ रही है पिछले करीब 10 12 वर्षों से पेड़ों 7हकी कटाई इतनी अधिक हो चुकी है की मौसम परिवर्तन भी समय से पूर्व होने लग गया है सर्दियों के दिन बहुत कम हो गए हैं और गर्मियों के दिन बहुत ज्यादा हो गए हैं यह सभी ग्लोबल वार्मिंग के कारण हुए हैं ग्लोबल वार्मिंग और पत्रिका संतुलन तभी संभव है जो पेड़ों का कटा बंद हो और जो पौधे रोपित किए जा रहे हैं उनका पूर्ण संरक्षण हो।इस अवसर पर सचिव रासबिहारी जोशी संगठन मंत्री राजेश आचार्य,उमेश पुरोहित, मनोज चौधरी, पंकज कल्ला,आकाशवाणी के वरिष्ठ अधिकारी के.पी बिस्सा,शशांक व्यास सहित अनेक पदाधिकारी एवं पर्यावरण विद ,मुरलीधर व्यास नगर निवासी उपस्थित थे।
पर्यावरण संरक्षण का संकल्प 
बैंक ऑफ बड़ौदा स्टाफ यूनियन राज बीकानेर यूनिट द्बारा पर्यावरण संरक्षण दिवस पर कार्यक्रम आयोजित कर पर्यावरण, शुद्ब वातावरण, हवा, छाव, स्वास्थ्यवर्धक लाभ, प्रत्येक सदस्यों ने संकल्प लिया कि जगह जगह पेड़ लगाए गए। कार्यक्रम संचालन उपमहासचिव साथी रामदेव राठौड़ बैंक आफ बड़ौदा स्टाफ यूनियन बीकानेर क्षेत्र ने बताया कि बैंक प्रबंधन द्वारा आऊटसोर्सिंग व हाउसकीपिंग , बैक द्बारा स्थानांतरण स्वीकृत करने , प्रतिनियुक्ति पर कर्मचारी मूल स्थान भेजने, सेवा सुरक्षा, सब स्टाफ व लिपिक भर्तियां, असाध्य रोग से पीड़ित सदस्यों का मेडिकल आधारित स्थानांतरण, समयोपरि भुगतान, बैंक द्बारा एक तरफा आऊटसोर्सिंग निर्णय वापस नहीं लिया जाता तो हर समय संगठन के सदस्यों द्बारा आंदोलन प्रदर्शन हड़ताल की जायेगी । बैंक कर्मी लामबंद हुए । केंद्र सरकार द्वारा निजीकरण विरोधी प्रस्ताव का सदस्यों में जबरदस्त आक्रोश है, जन विरोधी व श्रमिक विरोधी नीतियों को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा । अन्य गतिविधियों के बारे में विस्तार से चर्चा हुई । कार्यक्रम की अध्यक्षता साथी पूर्णा राम लेखाला ने किया । इस अवसर पर मनोज किराडू, एस.के.पारीक, सुरेन्द्र उपाध्याय, नवीन शर्मा, के.के. डागा, चन्द्र कांत पंवार ने विचार व्यक्त किए एवं अन्य सदस्य बैठक में उपस्थित हुए ।
चित्रों के जरिये पर्यावरण संरक्षण की भावनाओं को उकेरा
प्रदूषित होते परिमंडल की शुद्वता व इसको बचाएं रखने के उद्देश्य से आर्यन पब्लिक स्कूल की ओर से जवाहर पार्क में चित्रकला व पोस्टर प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसमें 150 के करीब बच्चों ने चित्रों के जरिये पर्यावरण संरक्षण की भावनाओं को उकेरा। नौनिहालों ने बर्बाद हो रहे पर्यावरण को किस तरह बचाया जा सकता है इसका संदेश दिया। प्रतियोगिता के संयोजक हरि व्यास ने बताया कि पृथ्वी को बचाना है,अपना जीवन संवारना की थीम पर आयोजित इस प्रतियोगिता का परिणाम सात जून को घोषित किया जाएगा। जिसके विजेताओं को पुरस्कृत क रने के साथ साथ प्रत्येक प्रतिभागी को प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि बच्चों ने इन चित्रों के जरिये पर्यावरण संरक्षण के न करने पर भविष्य में होने वाले दुष्प्रभावों को भी उजागर किया। इस मौके पर स्कूल संचालिका ज्योति कल्ला,अपूर्वा व्यास,वासुदेव पंवार,मुकेश व्यास,ऋतु पारीक,अमरनाथ व्यास,अमन गहलोत,दिव्या भूतड़ा सहित अनेक जने मौजूद रहे।
साइकिल चलाकर दिया स्वस्थ रहने-पर्यावरण संरक्षण का मंत्र
पर्यावरण संरक्षण के संदेश के साथ ट्रेक एंड ट्रेल,रोटरी क्लब बीकानेर मरुधरा,92.7 बिग एफएम तथा सेव बीकानेर पब्लिक पार्क कंपैन संस्था द्वारा फन,फिटनेस, फ्रीडम राइड का आयोजन किया गया। जिसको कलेक्ट्रेट से जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल,उप महापौर राजेन्द्र पंवार,जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी पी पचीसिया,भाजपा नेता जे पी व्यास ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस दौरान जिला कलक्टर ने कहा कि साइकिल चलाने से न केवल मनुष्य शारीरिक रूप से स्वस्थ रहता है,बल्कि पर्यावरण भी शुद्व व स्वच्छ रहता है। इसलिये हर व्यक्ति को सप्ताह में दो से तीन दिन साइकिल चलानी चाहिए। यह राइड जिला कलेक्ट्रेट से रवाना होकर तुलसी सर्किल,अम्बेडकर चौराहा,पवनपुरी,औद्योगिक क्षेत्र होते हुए जैन पी जी कॉलेज के सामने स्थित ट्रेक एंड ट्रेल के शो रूम पहुंची। रैली में बड़ी संख्या में युवाओं व शहर के मौजिज लोगों ने साइकिल की सवारी कर आमजन को साइकिल व पर्यावरण संरक्षण का संदेश दिया। इस अवसर पर संयोजक अरविन्द व्यास,निमेष सुथार,प्रेम जोशी,आरजे रोहित सहित अनेक जने मौजूद रहे।
मदर्स एल एस कर्मा फ़ाउंडेशन ने  किया कपड़े के बैग वितरण
विश्व पर्यावरण दिवस पर मदर्स एल एस कर्मा फ़ाउंडेशन की तरफ़ से संरक्षक श्रीमती लक्ष्मी देवी मंडा के मार्गदर्शन में हम पिछले 2 महीनों से कैंप लगाकर महिलाओं को पुराने कपड़ों व अख़बार को लेकर कपड़े के बैग व अख़बार के लिफ़ाफ़े बनाने की ट्रेनिंग दी गई जिसे हमने लगभग 10000 कपड़े के बैग तथा 25,000 अख़बार के लिफ़ाफ़े तैयार करवाए गए।आज विश्व पर्यावरण दिवस पर हम लोगों ने बीकानेर , नागौर , सीकर , हनुमानगढ़ चारों ज़िलों में 10 हज़ार कपड़े के बैग व 25 हज़ार अख़बार के लिफ़ाफ़ों का वितरण करवाया गया ।सभी जगह दुकानों ,ठेलों व सब्ज़ी मंडी में इनका वितरण किया गया है। इसी अवसर पर फ़ाउंडेशन की अध्यक्ष डॉ सुमन चौधरी के आग्रह पर लोकल फ़ूड पर फ़ोकस करते हुए लोगों को छाछ राबड़ी(जो कि राजस्थान का सबसे पुराना प्रचलित पेय फ़ूड है, पुराने ज़माने में अधिकतर लोगों का मुख्य भोजन गर्मी के दिनों में डूआ राबड़ी/खाट्टे की राबड़ी जो मोठ व बाज़री के आटे से बनायी जाती है,ये करीब अप्रैल से जून तीन महीने बनायी जाती है यह राबड़ी लू के प्रकोप से बचाती है व बाक़ी मौसम में छाछ से बनी राबड़ी जो केवल बाजरे की आटे से बनायी जाती है) का रसपान करवाया गया है ।राबड़ी में छाछ मिला देने से यह विटामिन B-12 ,D एवं कैल्शियम, आयरन ,फॉस्फोरस पोटैशियम , ज़िंक आदि मिनरल सहित बहुत ही पोषक व हेल्दी ड्रिंक बन जाती है।यह कार्यक्रम पब्लिक पार्क के वरिष्ठ नागरिक भ्रमण पथ पर आयोजित किया गया । इस अवसर पर हमने लोगों को छाछ राबड़ी का रसास्वादन करवाया व साथ में कपड़े से बने बैग भी वहाँ पर वितरित किए गए। इस अवसर पर फ़ाउंडेशन अध्यक्ष डॉ सुमन चौधरी, प्रदेश संरक्षक श्रीमती सींवरी चौधरी,प्रदेश संयोजक डॉ मीनाक्षी चौधरी,प्रदेश महासचिव नीलम बेनीवाल,प्रदेश सचिव डॉ सुनीता मंडा,प्रदेश तकनीकी प्रकोष्ठ प्रभारी डॉक्टर प्रतिभा चौधरी , प्रदेश हैंडीक्राफ्ट प्रभारी श्रीमती जया जाखड़,बीकानेर जिला अध्यक्ष दीपिका सारण, गरिमा दत्ता,भाग्यश्री फ़लोदिया,डॉ इंदु मिल, डॉ सुरभि चौधरी , सरिता चौधरी एवं अन्य टीम मेंबर्स ने उपस्थित रह कर कार्यक्रम को सफल बनाया ।सभी नागरिकों को पर्यावरण के प्रति जागरूक बनाने एवं इसे बचाने का आग्रह करते हुए उनको बताया कि recycling of clothes and papers से हम पेड़ों को काटने से बचा सकते हैं तथा पर्यावरण प्रदूषण को कम कर सकते हैं । पुराने कपड़ों के थैलो व अख़बार के लिफ़ाफ़ों को काम में लेने पर प्लास्टिक उत्पादों पर निर्भरता कम कर पर्यावरण सरंक्षण किया जा सकता है ,क्योंकि प्लास्टिक नष्ट होने वाला पदार्थ नहीं है,यह सालों साल प्रकृति में ऐसे ही पड़ा रहता है एवं पर्यावरण को प्रदूषित करता रहता है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.