पहली बारिश ने निगम को दिखाया आइना,जाने कैसे,देखे विडियो

तहलका न्यूज,बीकानेर। मॉनसून की पहली बारिश के साथ ही नगर निगम के सफाई अभियान की पोल खुलने लगी है। हर साल की भांति इस साल भी शोर-शराबे के साथ जिला प्रशासन ने बैठकों के जरिये मानसून पूर्व नालों की सफाई का खूब ढोल पीटा। लेकिन न तो उसकी मॉनिटरिंग की गई और न ही नालों की सफाई का कार्य गति पकड़ पाया। महज एकके दुकके नालों की सफाई को छोड़कर अधिकांश नाले गंदली से अटे पड़े रहे।जिसकी वजह से शहर में सोमवार दोपहर हुई बारिश के कारणे जगह-जगह नाले उफान पर रहे, वहीं सीवरेज जाम के कारण सड़कों पर पानी जमा रहा। हालात यह है कि मुख्य मार्गों पर भी सड़के पानी से लबालब रही। मंजर यह रहा कि जिस पुरानी गिन्नाणी की नाले की सफाई के लिये पार्षद व आयुक्त के बीच तनातनी हुई थी। उस क्षेत्र में मात्र 30 मिनट की बारिश ने निगम प्रशासन को आइना दिखा दिया। यहां के आक्रोशित लोग कहते नजर आएं कि निगम को अतिक्रमण तोडऩे की फुरसत मिले तो वो नालों की सफाई की ओर ध्यान दें। यहीं हालात जस्सूसर गेट क्षेत्र,फड़बाजार,पूगल रोड पर देखने को मिले। जहां नालों की सफाई नहीं होने से गंदला पानी सड़कों पर पसर गया। जब इन क्षेत्रों के हालात जाने तो सामने आया कि वास्तव में प्रशासन बैठकों के जरिये योजनाएं तो खूब बनाता है लेकिन जमीनी स्तर पर काम नहीं होने के कारण लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। शहर के अनेक क्षेत्र की गलियां व चौक पानी से भरे रहे। लोगों को अपने घरों में आने जाने की भी समस्या हो रही है।
बारिश से भीगा बीकानेर का तन मन
अंचल में दो दिन लगातार भीषण गर्मी के बाद सोमवार को आखिर इन्द्रदेव इलाके पर मेहरबान हुए। दोपहर तक उमस और गर्मी के बाद आसमान में छाए काले बादलों ने करीब तीन बजे बरसना शुरू किया। आधे घंटे से अधिक समय तक हुई बारिश से बीकानेर शहर की गलियों में पानी भर गया। बीकानेर में इन दिनों तापमान 44 डिग्री के आस-पास रह रहा है। बीते दो दिन से तो हीटवेव भी लोगों को परेशान कर रही थी। सोमवार को बारिश से जहां लोगों को गर्मी से राहत मिली। वहीं साथ ही खरीफ की फसलों को भी जीवनदान मिल गया। गर्मी से झुलस रहे पेड़-पौधे भी बारिश से फिर खिल उठे। बारिश बीकानेर शहर के साथ ग्रामीण अंचल में भी हुई है। इलाके में अभी ग्वार और मूंग-मोठ की बुवाई होनी है। ऐसे में बारिश से आगामी सीजन में फसलों को लेकर उम्मीद बंधी है। सिंचित क्षेत्र में कपास की फसल गर्मी से झुलस रही थी। उसे भी बारिश ने जीवनदान दिया है। इससे पहले बारिश होने से अब हीटवेव से छुटकारा मिलने की उम्मीद बंध गई है। गर्मी के सीजन की पहली बारिश को लोगों ने भी खूब एंजॉय किया। लोग घरों की छतों पर बारिश में नहाते नजर आए। वहीं बच्चे भी बरसात में नहाकर अटखेलियां करते नजर आए। बारिश शुरू होने के साथ ही पूरे शहर में बिजली गुल हो गई। जिससे लोगों को जरूर परेशानी हुई। शहर के कई हिस्सों में तो काटी गई बिजली आपूर्ति एक घंटे तक बहाल नहीं हो पाई।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.