मोटी तनख्वाह मिलने के बाद भी लेते हैं रिश्वत

बीकानेर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक बीएल सोनी सोमवार को यहां रवीन्द्र रंगमंच में भ्रष्टाचार के मुद्दे पर खुलकर बोले। उन्होंने कहा कि प्रदेश को भ्रष्टाचार मुक्त बनाना हमारा संकल्प है। राजस्थान देश का पहला राज्य है जो भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए लड़ रहा है। पिछले साल 300 से ज्यादा भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई की और अब भी जारी हैं।

एसीबी बीकानेर की ओर से आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के महानिदेशक सोनी ने कहा कि केन्द्र हो या राज्य सरकार का कर्मचारी। सभी को सरकार मोटी तनख्वाह देती है। इसके बावजूद कुछ कार्मिक आमजन का काम करने के बदले रिश्वत लेते हैं। अब आमजन का रिश्वत को ना कहने का समय आ गया है। कोई भी भ्रष्टाचारी दया का पात्र नहीं बनेगा। भ्रष्टाचार रोकेंगे तभी बच्चों को अच्छा भविष्य दे पाएंगे।

कई मामलों में नहीं मिलती स्वीकृति
एसीबी महानिदेशक ने कहा कि अधिकांश मामलों में अभियोजन स्वीकृति मिल जाती है, लेकिन कुछ मामलों में देरी होती हैं। ऐसे मामलों में उच्चाधिकारी से चर्चा कर जल्द अभियोजन स्वीकृति लेने के प्रयास करते हैं। बीकानेर एसीबी एसपी देवेन्द्र बिश्नोई ने कहा कि निर्भीक होकर भ्रष्टाचार की शिकायत करें द्मकाम अटकने की ङ्क्षचता नहीं करेंद्य। एएसपी रजनीश पूनिया ने कहा कि भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए सबको एकजुट होना होगा। भ्रष्टाचारियों की वजह से वाजिब काम किसी का नहीं रुकेगा, हम पर भरोसा करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.