रीट परीक्षा का पाठ्यक्रम जारी,इस तरह किया अंक निर्धारण

तहलका न्यूज,बीकानेर। राजस्थान में टीचर्स के 46 हजार 500 पदों के लिए 23 और 24 जुलाई को रीट परीक्षा कराई जाएगी। इसमें लेवल-1 की 15 हजार, जबकि लेवल-2 के लिए 31 हजार 500 पदों के लिए परीक्षा आयोजित की जाएगी। वहीं, भर्ती परीक्षा से पहले शिक्षा विभाग ने रीट परीक्षा का सिलेबस जारी कर दिया है।इसके तहत लेवल-1 और लेवल-2 दोनों की परीक्षा 300 नंबर की होगी। इसके लिए उम्मीदवार को दो घंटे 30 मिनट का वक्त दिया जाएगा। इस दौरान हर पेपर में कुल 150 सवाल होंगे। इसमें हर सही सवाल पर उम्मीदवार को दो नंबर मिलेंगे। गलत जवाब देने पर एक तिहाई (0.33) नंबर काटा जाएगा।
माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ही कराएगा परीक्षा
शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा ही 46 हजार 500 पदों पर रीट का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद रीट पास कर चुके अभ्यर्थियों को नियुक्ति के लिए एक और परीक्षा देनी होगी। इसमें मेरिट और एकेडमिक इंडेक्स के आधार पर टॉप करने वाले अभ्यर्थियों क ो नियुक्ति मिलेगी।वहीं, पिछले साल 26 सितम्बर को आयोजित हुई परीक्षा के लेवल-1 के 15 हजार 500 अभ्यर्थियों को अप्रैल में काउंसिलिंग होते ही नियुक्ति दे दी जाएगी। अप्रैल तक शेष पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इसके बाद जुलाई तक एक और परीक्षा का आयोजन कर इसी साल रिजल्ट जारी कर कुल 62 हजार पदों पर अभ्यर्थियों की नियुक्ति भी कर दी जाएगी। जुलाई में आयोजित होने वाली भर्ती परीक्षा के लिए लेवल-2 के पुराने अभ्यर्थियों को आवेदन शुल्क नहीं देना होगा।
रद्द की गई थी लेवल-2 की परीक्षा
दरअसल, राजस्थान में 31 हजार पदों के लिए 25 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों की पिछले साल सितंबर को रीट परीक्षा आयोजित कराई गई थी। इसके 36 दिन बाद रीट का रिजल्ट जारी कर दिया गया था। इसमें से 11 लाख चार हजार 216 को पात्र घोषित किया गया था। इनमें लेवल-1 के लिए 3 लाख तीन हजार 604 और लेवल-2 के लिए 7 लाख 73 हजार 612 को पात्र घोषित किया गया था। भर्ती परीक्षा का परिणाम जारी होने के बाद लेवल-2 के पेपर के लीक होने सबंधी विवाद में सरकार ने लेवल-2 की परीक्षा को रद्द कर दिया।
बता दें कि रीट पेपर लीक प्रकरण में राजस्थान पुलिस अब तक 50 से अधिक लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है। जबकि एक करोड़ रुपए से अधिक की राशि जब्त की गई है। ऐसे में विपक्ष इस पूरे मामले की सीबीआई से जांच कराने की मांग पर अड़ा हुआ है। सत्ता पक्ष जल्द से जल्द भर्ती प्रक्रिया को पूरी करने की तैयारी में जुटा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.