REET 2021 में मई के पहले सप्ताह में नियुक्ति

बीकानेर। REET 2021 की फाइनल कटऑफ जारी होने के बाद अब राज्य के साढ़े पंद्रह हजार बेरोजगार टीचर्स को सरकारी नौकरी मिल जाएगी। उम्मीद की जा रही है कि मई के पहले सप्ताह तक इन बेरोजगारों को नियुक्ति आदेश मिल जाएंगे। सभी टीचर्स को फिलहाल ग्रामीण स्कूलों में ही पढ़ाना होगा। सोमवार को सभी जिलों को चयनित कैंडिडेट की लिस्ट उनके रिकार्ड के साथ भेज दी जाएगी। प्रारम्भिक शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल के निर्देशन में रविवार को अवकाश के दिन भी आला अधिकारी तैयारी में जुटे हुए थे। रात करीब दस बजे फाइनल कटऑफ जारी होने के बाद भी आला अधिकारी और कर्मचारी निदेशालय में डटे हुए थे। दरअसल, सभी जिलों को आज ही केंडिडेट्स का रिकार्ड व लिस्ट भेजी जानी है। इसी लिस्ट के आधार पर जिलों में नियुक्ति दी जाएगी। इस लिस्ट का जिला परिषद् से अनुमोदन भी होना है। ऐसे में हर जिले में जिला परिषद् से प्रोसेस पूरा होने का इंतजार करना पड़ सकता है। इसके बाद जिला शिक्षा अधिकारी नियुक्ति व पद स्थापन आदेश जारी करेंगे।

गांवों में होगा पदस्थापन
नए टीचर्स को पहली नियुक्ति ग्रामीण क्षेत्रों में दी जाएगी। जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वो ज्यादा जरूरत के आधार पर रिक्त पदों की तैयारी करें ताकि इन टीचर्स को वहां नियुक्ति दी जा सके। वैसे तो नियुक्ति व पदस्थापन जिला शिक्षा अधिकारी को करना है लेकिन इस पर भी निदेशालय का पूरा नियंत्रण रहेगा। पदस्थापन से पहले जिला शिक्षा अधिकारियों को निदेशालय को विश्वास में लेना होगा। अपने स्तर पर जिला शिक्षा अधिकारी नियुक्ति व पदस्थापन आदेश जारी नहीं कर सकेंगे। साथ ही शहरी क्षेत्र में किसी भी नए टीचर को नियुक्ति नहीं दी जाएगी। यहां तक कि शहर के आसपास के स्कूल्स पर भी पदस्थापन आसानी से नहीं होगा।

पहले ट्रांसफर, फिर पदस्थापन की मांग
उधर, शिक्षक संगठनों ने नए टीचर्स के पदस्थापन से पहले ट्रांसफर की मांग की है। दरअसल, शहर के आसपास स्थित सुविधाजनक स्कूलों में नए टीचर्स का पदस्थापन होने से दूरस्थ ग्रामीण विद्यालयों में जमे टीचर्स के आने का रास्ता बंद हो जाएगा। ये भी संभव है कि ट्रांसफर के दौर में इन नए टीचर्स को फिर से इधर-उधर किया जाए।


Leave a Reply

Your email address will not be published.