रांका ने निकाली विशाल वाहन रैली

तहलका न्यूज़,बीकानेर। बारिश की बूंदें, आसमां में लहराता तिरंगा और हजारों लोगों के मुख से निकलता भारत माता की जयकार का दृश्य देशभक्ति के भावों को साकार कर रहा था। दृश्य था भाजपा लघु उद्योग प्रकोष्ठ के प्रदेश सहसंयोजक महावीर रांका द्वारा निकाली गई वाहन रैली का। भीनासर के मुरलीमनोहर मनोहर मैदान से वंदे मातरम् के उद्षोघ से रवाना हुई रैली गंगाशहर बाजार, कोचर सर्किल, गोगागेट सर्किल, स्टेशन, लालजी होटल से राजीव गांधी मार्ग, कोटगेट, केईएम रोड, जूनागढ़, कीर्ति स्तम्भ होते हुए दीनदयाल सर्किल पर पहुंची। करीब एक दर्जन से अधिक स्थानों पर पुष्पवर्षा से तिरंगा वाहन रैली का स्वागत किया गया। पं. दीनदयाल सर्किल पर यूआईटी पूर्व चैयरमेन महावीर रांका, भाजपा जिलाध्यक्ष अखिलेशप्रताप सिंह, बीकानेर प्रभारी ओम सारस्वत ने शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित की। इस दौरान महावीर रांका ने वाहन रैली में शामिल हजारों लोगों से 13 से 15 अगस्त तक अपने घर, स्कूल, कॉलेज, कोचिंग, कार्यालयों व व्यावसायिक प्रतिष्ठानों पर तिरंगा फहराने की अपील की।  रांका ने बताया कि लोगों में तिरंगा अभियान के प्रति जागरुकता आए इसी उद्देश्य से विशाल वाहन रैली निकाली गई।
रैली का एक छोर कोटगेट पर तो दूसरा छोर जूनागढ़ सार्दुलसिंह सर्किल तक देखा जा सकता था। तिरंगा लगे दुपहिया व चौपहिया वाहनों की इस विशाल रैली में सबसे आगे बग्गी में भारत माता विराजित थी और पीछे वाहनों की कतार चल रही थी। रमेश भाटी ने बताया कि आयोजन में राजेन्द्र शर्मा, मधुसूदन शर्मा, भगवतीप्रसाद गौड़, नारायणसिंह चौहान, शंभु गहलोत, तेजाराम राव, श्रवण चौधरी, गौरीशंकर देवड़ा, प्रणव भोजक, आनन्द सोनी, आदर्श शर्मा, जितेन्द्रसिंह भाटी, गणेश जाजड़ा, गोविन्द सारस्वत, राजेन्द्र व्यास, लक्की पंवार, विष्णु तंवर, संजय स्वामी, पवन सुराना, शंकरसिंह राजपुरोहित, ओम राजपुरोहित, पंकज गहलोत, निर्मल गहलोत आदि की सहभागिता रही।
अब तक 50 हजार तिरंगे वितरित
पवन महनोत ने बताया कि भाजपा लघु उद्योग प्रकोष्ठ के प्रदेश सहसंयोजक महावीर रांका ने 4 अगस्त को हर घर तिरंगा अभियान के तहत तिरंगा वितरण प्रारंभ किया था। आज तक नौ दिनों में लगभग 50 हजार तिरंगे वितरित किए जा चुके हैं। शुक्रवार को केन्द्रीय विद्यालय नं.1, महारानी स्कूल, फोर्ट स्कूल, गंगा चिल्ड्रन, आदर्श विद्या मंदिर किसमीदेसर, करनाणी स्कूल सहित नौ स्कूलेां में 5 हजार झंडे वितरित किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.