रानीबाजार की फैक्ट्री-रेस्टोरेंट पर छापा मारा,तो यह अपराध आया पकड़ में

तहलका न्यूज,बीकानेर। अनेक फैक्ट्रियों और रेस्टोरेंट में छोटे बच्चों से काम करवाने वालों के खिलाफ एक बार फिर अभियान शुरू हो गया है। जगह-जगह बाल मजदूरी कर रहे इन बाल श्रमिकों को मुक्त कराने के लिए मंगलवार को रानी बाजार इंडस्ट्रियल एरिया में कार्रवाई की गई। इस दौरान दो बच्चों को मुक्त कराया गया, जबकि कई फैक्ट्रियों में बाल श्रमिकों की छानबीन करने भी प्रशासन की टीम पहुंची।जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल के नेतृत्व में बालश्रम उन्मूलन के लिए गठित जिला स्तरीय टीमों ने मंगलवार को जयनारायण व्यास कॉलोनी तथा रानी बाजार इंडस्ट्रीयल एरिया क्षेत्र में विभिन्न रेस्टोरेंट्स व औद्योगिक इकाइयों का अचानक निरीक्षण किया। जिला स्तरीय टीम ए के प्रभारी अरविन्द सिंह सेंगर एवं टीम बी प्रभारी हर्षवर्धन सिंह भाटी, बाल कल्याण समिति सदस्य जुगल किशोर व्यास, किशोर न्याय बोर्ड सदस्य किरण गौड़, के नेतृत्व में यह निरीक्षण किए गए।इस दौरान जयनारायण व्यास कॉलोनी क्षेत्र एक रेस्टोरेन्ट से दो बालकों को बालश्रम से मुक्त करवाया गया तथा फैक्ट्रियों व रेस्टोरेंट मालिकों को बालश्रम नहीं करवाने के लिए कहा व श्रम तथा अन्य कानूनों की जानकारी दी। रेस्टोरेंट व फैक्ट्री मालिकों से बालश्रम नहीं करवाने के शपथ पत्र भरवाए गए। निरीक्षण टीम में श्रम विभाग से मनोज कुमार तथा मानव तस्करी प्रकोष्ठ दिलीप सिंह, रामनिवास तथा बाल अधिकारिता विभाग से सुमन मेहरा मौजूद रहे।
फैक्ट्रियों में कर रहे काम
बीकानेर की अनेक फैक्ट्रियों में भी बच्चों के काम करने की सूचना श्रम विभाग काे मिलती रहती है। इसी आधार पर प्रशासन भी लगातार दबिश दे रहा है। मंगलवार को भी अनेक जगह दबिश दी गई, जबकि एक रेस्टोरेंट में दो बच्चों को मुक्त कराया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published.