प्रिकॉशन डोज है जरूरी, फिर भी लोगों ने बना रखी है दूरी,बढ़ रहे कोरोना के मामले

तहलका न्यूज,बीकानेर। कोरोना महामारी से लड़ाई में दुनिया के कई देश बूस्टर डोज को एक उम्मीद की तरह देख रहे हैं। लेकिन इसको लेकर न तो सीनियर सिटीजन गंभीर है और न ही फ्रंटलाइन वर्कर्स। हालात यह है कि निर्धारित लक्ष्य से पच्चीस प्रतिशत लोगों ने ही अभी तक प्रिकॉशन डोज लगाई है। जबकि एक्सपर्ट मान रहे हैं कि वैक्सीन लगाने से कोरोना से होने वाली गंभीर बीमारी और मृत्यु से बचने में काफी हद तक मदद मिलेगी। यही वजह है कि केंद्र सरकार के निर्देश पर 60 वर्ष से अधिक आयु के बुजुर्गों, फ्रंटलाइन वर्कर्स और हेल्थ केयर वर्कर्स को प्रिकॉशन डोज देने की शुरुआत 10 जनवरी से हुई। हालांकि, बीकानेर में प्रिकॉशन डोज लेने में लोगों की सुस्ती स्वास्थ्य पर भारी पड़ सकती है। जिले में अब तक तीन लाख तेहतर हजार लोगों में मात्र 76984 लोगों ने ही प्रिकॉशन डोज ली है। इसके अलावा करीब 6 हजार फ्रंटलाइन वर्कर्स और हेल्थ केयर वर्कर्स ने भी अभी तक यह डोज नहीं लगाई है। बता दें, गुरूवार तक जिले में पहली,दूसरी व प्रिकॉशन डॉज मिलाकर 3666853 खुराक दी जा चुकी हैं।
निजी अस्पतालों में नहीं है सुविधा
हालात यह है कि सरकार की ओर से साठ साल से अधिक आयुवर्ग के बुजुर्गों, फ्रंटलाइन व हैल्थकेयर वर्कर्स के लिए तो सरकारी स्तर पर प्रिकॉशन डोज के टीकाकरण की व्यवस्था की है। वहीं, 12 से 59 वर्ष आयुवर्ग के लोगों को निजी अस्पतालों में शुल्क अदा कर खुराक लगवानी के दिशा निर्देश दिए हुए है। फिलहाल किसी भी निजी चिकित्सालय में यह सुविधा नहीं है। ऐसे में पैसा खर्च करने पर भी लोगों को सुविधा उपलब्ध नहीं हो रही है। उधर विभाग ने फ्रंटलाइन वर्कर्स और हेल्थ केयर वर्कर्स जिन्होंने ने र्पिकॉशन डोज नहीं लगवाई है,उनके विभाग प्रभारियों को नोटिस भी दिए है। उसके बाद भी ये लोग डोज लगवाने में रूचि नहीं दिखा रहे है। साथ ही साथ समय समय पर विभाग की ओर से जनता से अपील भी की जा रही है।
बढ़ रहे कोरोना के मामले,9 दिन 36 मामले
कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा है। कोरोना के बढ़ते ग्राफ का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि पिछले नौ दिनों में कुल 36 मरीजों को कोरोना हुआ है। जबकि पिछले महीने में कुल 43 मरीज ही रिपोर्ट हुए थे। वहीं अप्रैल में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या महज 15 ही थी। डॉक्टरों के अनुसार कोविड पॉजिटिव मरीजों की बढ़ती संख्या चिंताजनक है। ऐसे में जिन लोगों ने अभी भी वैक्सीनेशन नहीं करवाया है, वे समय रहते वैक्सीनेशन करवा लें। गुरूवार को आई रिपोर्ट में जहां आठ नये मामले सामने आएं तो शुक्रवार को यह संख्या बढ़कर 14 हो गई।जिसमें नापासर में सर्वाधिक पांच नए कोविड संक्रमित मिले हैं। इसके साथ ही बीकानेर में एक्टिव केस बीस से ऊपर पहुंच गए हैं।पिछले कुछ महीने तक कोरोना रोगियों की संख्या शून्य थी लेकिन कुछ दिनों में कोविड केस बढऩे शुरू हुए हैं। ताजा रिपोर्ट में सेटेलाइट अस्पताल में हुई जांच में विश्वकर्मा गेट के पास रहने वाली एक 32 वर्षीय महिला, नापासर में नापासर उतरादा, रामसर, नायकों का मोहल्ला, दुर्गा माता मंदिर के पास रहने वाले चार अन्य को कोरोना हो गया है। इसमें दो बच्चे शामिल है। एक आठ साल और दूसरा बारह साल का लड़का है। रेलवे स्टेशन पर हुई जांच में नागौर के मकराना का एक यात्री पॉजिटिव आया है, जिसे अब रिपोर्ट भेजी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.