दहेज नहीं लेने वाले लोगों का किया सम्मान

तहलका न्यूज,बीकानेर।जाट मैरिज ब्यूरो बीकानेर ने खाजूवाला तहसील की नई कार्यकारिणी का किया गठन किया तथा दहेज नही लेने वाले जाट समाज के बारह लोगों को मोमेंटो देकर सम्मानित किया ।जाट समाज मैरिज ब्यूरो, बीकानेर के अध्यक्ष पेमाराम सारण एवं समस्त कार्यकारिणी के सदस्यों ने कल जाट धर्मशाला, खाजूवाला में जाट समाज के खाजूवाला क्षेत्र के बुद्धिजीवी लोगों की मीटिंग करके लम्बी चर्चा के बाद जाट समाज के लोगों की सर्वसम्मति से जाट मैरिज ब्यूरो, खाजूवाला की कार्यकारिणी का गठन किया । जाट मैरिज ब्यूरो, बीकानेर संस्था के सचिव बीरबल मूण्ड ने बताया कि खाजूवाला कार्यकारिणी में निम्नलिखित जाट समाज के लोगों को संस्था द्वारा नियुक्ति पत्र दिया ।
1.  मनीराम लेघा (अध्यक्ष)
2.  कानाराम  जाखड़ (उपाध्यक्ष)
3. पतराम  पुनियाँ (उपाध्यक्ष)
4.  ओमप्रकाश  झोरड़ (सचिव)
5.  रेवंतराम  गोदारा (कोषाध्यक्ष)
6.  रणवीर  भाम्भू (सरंक्षक)
7.  सुरजाराम  गोदारा (सदस्य)
8.  प्रेमकुमार खोत (सदस्य)
9.  मघाराम  गोदारा (सदस्य)

जाट समाज मैरिज ब्यूरो का उद्देश्य है कि समाज के विवाह योग्य लड़के लड़कियों के रिश्ते सुगमता से हो इसके लिए जिले की प्रत्येक तहसील में एक कार्यकारिणी बने जो समाज के विवाहयोग बच्चों के बायोडेटा इक्क्ठा करके सुगम रिश्ते सुझाने का कार्य करे । इसी कड़ी में पहले लूणकरणसर में कार्यकारिणी बनाई और कल खाजूवाला में नई कार्यकारिणी का गठन किया तथा इसी कड़ी में आने वाले दिनों में सभी तहसीलों में कार्यकारिणी का गठन किया जायेगा जिसमें उन लोगों को शामिल किया जायेगा जो रिश्ते करवाने में रुचि रखते हो । इसी के साथ कल खाजूवाला क्षेत्र के उन लोगों को संस्था द्वारा मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया जिन्होंने अपने बच्चों की शादी बिना दहेज के सगुन का एक रुपया नारियल लेकर शादी की उनको संस्था के अध्यक्ष श्री पेमाराम जी सारण व पूरी कार्यकारिणी ने समाज के हजारों लोगों के बीच मोमेंटो देकर सम्मानित किया तथा समाज मे एक अच्छा मेसेज दिया कि दहेज एक दानव है इसको छोड़कर शिक्षा में अपने होनहारों के आगे बढ़ाए, दहेज नही लेकर शादी करने वाले निम्नलिखित लोगों को सम्मानित किया गया ।
1.  पतराम  पुनियाँ
2.  रेवंतराम  भादू
3. संतराम  पुनियाँ
4.  ओमप्रकाश  गोदारा
5.  रामस्वरूप  कस्वां
6.  महावीर  भादू
7.  मनीराम  गोदारा
8. बृजलाल गोदारा
9.  रामकुमार गोदारा
10. प्रहलाद राम खोद
11. चानण राम
12. रामकुमार सियाग
इन सभी ने अपने बेटों की शादी में दहेज न लेकर समाज के सामने एक अच्छी मिसाल पेश की इन सभी को जाट समाज सम्मान देता है तथा समाज से उमीद करता है आगे भी ज्यादा से ज्यादा लोग दहेज को छोड़े ।

इस ऐतिहासिक पल के गवाह बने  भगीरथ ज्याणी, अध्यक्ष जाट धर्मशाला, खाजूवाला, प्रभु डूडी, रघुवीर ताखर, पतराम पुनियाँ, मनीराम लेघा, करणाराम  जाखड़, भगीरथ  गोदारा, कर्ण  पुनियाँ, रणवीर भाम्भू, रूपाराम जांगू, मंगलाराम  जांगू, श्रवण  भाम्भू,सुनील  पुनियाँ,रेवंतराम  गोदारा,हंसराज कुकणा,रामकुमार गोदारा,गिरधारी  कुकणा,हरीराम  पुनियाँ,रामलाल कड़वासरा,रामप्रताप  सियाग, रामरख  कस्वां,हरिराम जाखड़,रामकिशन कस्वां,रामप्रताप भादू,रणसिंह  पुनियाँ,तोलाराम  जाखड़,प्रेमकुमार खोथ एवं जाट मैरिज ब्यूरो, बीकानेर की तरफ से पेमाराम  सारण, हड़मान  गोदारा, रामचन्द्र  दुसाद, रामेश्वर जाखड़, अमराराम  डूडी, किसन  जांघू (हाकमजी), गोपाल  तरड़, भोमराज गाट, शंकर सारण, आनंद  कस्वां, बीरबल मूण्ड, प्रेम  धतरवाल आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.