हल्दीराम एज्यूकेशनल सोसायटी की पहल पर सुधरेगी स्कूलों की सूरत,अग्रवाल ने दिया सीएम को धन्यवाद

तहलका न्यूज,बीकानेर। चिकित्सा क्षेत्र में भामाशाहों के सहयोग से बदली अस्पतालों की सूरत के बाद अब शिक्षा के क्षेत्र में भी नवाचार होने जा रहा है। जिसके तहत भामाशाहों के सहयोग से राजकीय विद्यालयों का कायाकल्प किया जाएगा। इसकी विभागीय स्वीकृति शिक्षा निदेशक गौरव अग्रवाल ने जारी करते हुए आदेश जारी किये है। जिसके तहत जनसहभागिता के माध्यम से जनउपयोगी कार्य किये जा सकेंगे। इसमें 50 प्रतिशत राजस्थान सरकार एवं 50 प्रतिशत दानदाता/भामाशाह/एनजीओ व स्वयंसेवी संस्था शिक्षा में राजकीय स्कूलों के विकास निर्माण में और आधुनिक उपकरण में दोनों में ानदाता/राज्य सरकार की राशि खर्च की जा सकेगी। इसके लिये हल्दीराम एज्यूकेशनल सोयायटी की ओर से प्रस्ताव सरकार को भेजा गया। जिस पर शिक्षा निदेशक ने आदेश जारी कर दिए है। इसके लिये आज जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल को बैठक के दौरान सोसायटी प्रतिनिधि रमेश कुमार अग्रवाल ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नाम धन्यवाद पत्र सौंपा। जिस पर जिला कलक्टर ने कहा कि सोसायटी की इस अनूठी पहल से स्कूलों के हालात सुधरेंगे। पूर्व में चिकित्सा के क्षेत्र में भी सोसायटी ने इस प्रकार की पहल कर क्रांति ला दी थी। अब ऐसी शुरूआत कर नये आयाम स्थापित करेगा। हल्दीराम एज्युकेशन सोसायटी के प्रतिनिधि रमेश कुमार अग्रवाल ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा यह अभूतपूर्व फैसला किया गया है। इससे छोटे-छोटे भामाशाह अपने-अपने क्षेत्र की स्कूलों के विकास के लिए आगे आएंगे तथा शिक्षा के लिए आधारभूत सुविधाओं और तकनीक की उपलब्धता में योगदान दे सकेंगे। इससे पहले बुधवार देर शाम को बीकानेर प्रवास के दौरान शिक्षा मंत्री डॉ बी डी कल्ला ने हल्दीराम एज्यूकेशनल सोयायटी की ओर से बीकानेर में संचालित अंग्रेजी माध्यम स्कूल में किये गये नवाचार की एक बुकलेट क ा लोकार्पण किया। प्रतिनिधि रमेश कुमार अग्रवाल भी इस मौके पर मौजूद रहे। इस मौके पर जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष डी पी पचीसिया,वीरेन्द्र किराडू भी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.