अधिकारियों ने सरकार को दी ये चेतावनी

तहलका न्यूज,बीकानेर। पंचायती राज मंत्री रमेश मीना की जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल को कार्यक्रम से बाहर भेजने का मामला तूल पकडऩे लगा है। मंत्री व सरकार के खिलाफ कर्मचारियों,व्यापारियों,नेताओं के साथ अब अधिकारी भी लामबद्व होने लगे है और सरकार के खिलाफ हल्ला बोलते हुए संभागीय आयुक्त को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। राजस्थान प्रशासनिक सेवा परिषद की ओर से संभागीय आयुक्त कार्यालय के समक्ष एसडीएम,तहसीलदार सहित आरएएस और आरटीएस सेवा से जुड़े अधिकारियों ने घटना पर रोष जताते हुए समीक्षा बैठकों के कार्य बहिष्कार की घोषणा की है। अधिकारी वर्ग में आक्रोश है कि जिस तरह मंत्री का रवैया था,वह अशोभनीय था। इससे अधिकारी वर्ग को आहत पहुंची है। इस मामले में मुख्यमंत्री संज्ञान ले तथा स्पष्टीकरण दें। जब तक सरकार के मुखिया का रूख साफ नहीं होगा तब तक समीक्षा बैठकों में अधिकारी वर्ग शामिल नहीं होगा।अब तक बड़ी संख्या में कर्मचारी संगठन इस बारे में मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेज चुके हैं। उधर, आईएएस एसोसिएशन ने भी जयपुर में विरोध दर्ज कराया। मुख्य सचिव को अल्टीमेटम भी दिया लेकिन मंत्री मीणा की ओर से इस पूरे मामले में कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.