अब बीकानेर के इस क्षेत्र में भी फहराएगा राष्ट्रीय ध्वज,जाने क्यों

तहलका न्यूज,बीकानेर।प्रदेश में एक ही छत्त के नीचे एलोपैथिक,आयुर्वेद व होम्योपेथी का इलाज और वह भी भामशाहों के सहयोग से। यह सभी के लिये अनुकरणीय मिसाल पेश क रेगा। जो सभी के लिये प्रेरणादायी है। ये उद्गार संभागीय आयुक्त नीरज के पवन ने बुधवार को रानीबाजार स्थित जनता क्लिनिक के अवलोकन के दौरान कहे। उन्होंने क हा कि यह जनता क्लिनिक बेहतर बनाया गया है। जो अपने आप भी अनूठा उदाहरण पेश कर रहा है। अगर इस तरह के जनता क्लिनिक प्रदेश में संचालित होने शुरू हो जाएंगे तो निश्चित तौर पर आम जनता के स्वास्थ्य के लिये कारगार साबित होगा।संभागीय आयुक्त ने सरकार की ओर से हर संभव मदद का आश्वासन भी समिति के सदस्यों व पदाधिकारियों को दिया। पवन ने मोहल्ला प्रबंधन समिति की ओर से स ंचालित इस जनता क्लिनिक की व्यवस्थाओं के देखा तथा यहां स्थिति स्टाफ से बातचीत कर जानकारी हासिल की। उन्होंने क्लिनिक में स्थित सुविधाओं की सराहना भी की। इस मौके पर अध्यक्ष विजय कुमार थिरानी,उपाध्यक्ष प्रदीप भारद्वाज,डॉ नरेश गोयल,सचिव व प्रबंधक राजीव शर्मा,कोषाध्यक्ष दिनेश वत्स,नीरज गुप्ता,शशि गुप्ता, अभिषेक अग्रवाल,सुरेश गुप्ता,मानव गुप्ता,मनोज कल्ला,प्रमोद शर्मा,दिनेश शुक्ला,सुशील मान,बीरबल कोचर सहित समिति के सदस्य,मोहल्ले के बुजुर्ग हरिनारायण नाथ भारद्वाज,एम पी शर्मा,नरेन्द्र,कृष्ण कुमार शर्मा,प्रेमदान चारण,जीवण कुमार,डॉ महेश मिढ्ढा,डॉ अशोक सुथार आदि उपस्थित रहे।
खाली पड़ी जमीन पर बनेगा पार्क,फहराएगा राष्ट्रीय ध्वज
समिति की ओर से संभागीय आयुक्त से चोपड़ा कटले के पीछे खाली पड़े बाड़े को गोद देने की बात कही। ताकि इसमें पार्क विकसित कर यहां राष्ट्रीय ध्वज लगाया जा सके। जिस पर नीरज के पवन ने जिला उद्योग केन्द्र की महाप्रबंधक मंजू नैण गोदारा को इसके प्रस्ताव लेकर भेजने के मौखिक निर्देश दिए। जिसके बाद गोदारा ने सचिव राजीव शर्मा को तत्काल प्रस्ताव बनाकर भेजने को कहा।
कब्जों का होगा शीघ्र निस्तारण
इस दौरान संभागीय आयुक्त ने आसपास हुए कब्जों को भी हटाने के निर्देश दिए। साथ ही परेदशियों की बगेची मुक्तिधाम का अवलोकन भी कर यहां स्थित अतिक्रमण व क ब्जों को शीघ्र हटाने का विश्वास समिति के पदाधिकारियों को दिलाया। अवलोकन के दौरान समिति की ओर से इस जनता क्लिनिक के उद्घाटन का आग्रह भी किया। जिसके लिये भी जल्द तारीख तय करने की बात कही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.