अब आगामी विवाह समारोह के लिए प्लान ए, प्लान बी और प्लान सी,पढ़ें पूरी खबर

तहलका न्यूज,बीकानेर।राज्य में कोरोना कही तीसरी लहर की रोकथाम के लिए राज्य का गृह विभाग गाइड लाइन पर गाइड लाइन जारी कर रहा है। लेकिन बार-बार बदलती गाइडलाइन से विवाह वाले मेजबान घरों को समारोह के लिए एक से अधिक यानी…प्लान ए, प्लान बी और यहां तक की प्लान सी भी तैयार करने पड़ रहे हैं। दरअसल, राज्य सरकार ने कुछ दिन पहले शादी समारोह में 50 लोगों के शामिल होने की छूट दी थी, जिसे एक दिन पहले बढ़ाकर 100 कर दिया गया है। नई गाइडलाइन आने के बाद तो अचानक न्यौते लगाने जैसी स्थितियां भी सामने आ रही है। जिन मेहमानों के नाम पहले मेजबानों को हटाने पड़े, अब उन्हें मोबाइल संदेश और सोशल मीडिया से आमंत्रण भेजे जा रहे हैं।लोगों ने गाइड लाइन के हिसाब से पहले 50 मेहमानों की सूची तैयार की और कार्ड भी छपवा कर बंटवा दिए। लेकिन अब मेहमानों की संख्या में छूट जारी हुई तो लोग अब शादी समारोह की तैयारियों पर पुनर्विचार कर रहे हैं। अब पहले 50 मेहमानों की छूट के साथ निमंत्रण कार्ड बांटे थे वहीं अब मेहमानों की नई सूची तैयार की जा रही है और छूट के हिसाब से वॉटसएप मैसेज के जरिए मेहमानों को निमंत्रण भेज रहे हैं।
केटर्स, विवाह स्थल वालों के पास पहुंचे सुबह ही फोन
शादियों में केटरिंग और विवाह स्थल की बुकिंग करने वाले कुछ केटरर्स के अनुसार गाइडलाइन में मेहमानों की संख्या बढी तो सुबह से ही शादी वाले परिवारों से फोन आने लगे। पहले जितने खाने का ऑर्डर किया था अब उस ऑर्डर में मौजूदा छूट के अनुसार बढाने की कह रहे हैं। यही स्थिति विवाह स्थल वालों के साथ भी रही है। जहां पहले किसी ने होटल में बैंक्वेट बुक किया वहीं अब 100 मेहमानों की क्षमता वाले विवाह स्थल को लेकर पूछताछ हो रही है, जिससे ज्यादा मेहमान होने पर किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हो।
पैसे की चिंता नहीं, व्यवस्था करो
लोगों ने महीनों पहले शादी समारोह में असीमित मेहमानों की गाइडलाइन के हिसाब से कैटरिंग व विवाह स्थल बुक किए। जैसे-जैसे कोरोना बढता गया वैसे ही मेहमानों की संख्या 200 की जगह 100 हुई और फिर 50 हो गई। लोगों ने मेहमानों की संख्या कम होने पर अपनी बुकिंग कैंसिल करा कर केटरर्स व विवाह स्थल संचालक से रिफंड तक ले लिया। लेकिन अब लोग इनको फोन कर कह रहे हैं कि मेहमानों की संख्या 100 हो गई है। उस हिसाब से खाना व विवाह स्थल की व्यवस्था हो। पैसे की चिंता करने की बिल्कुल जरूरत नहीं है।
इन तैयारियों में कर रहे हैं बदलाव
– निमंत्रण कार्ड
– शादी में खाने का ऑर्डर
– केटरिंग में लगने वाली सामग्री
– बड़ा टेंट लगाने की योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published.