अब डूंगर कॉलेज भी होने जा रहा है हाईटेक,जाने कैसे

तहलका न्यूज,बीकानेर। जिले के सबसे बड़े राजकीय डूंगर महाविद्यालय में जल्द ही हाइटेक कम्यूटर आइटी सेंटर खुलेगा। डूंगर कॉलेज में खुलने वाले नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सेंटर के माध्यम से कॉलेज सहित अन्य संस्थानों के विद्यार्थी बेसिक से लेकर कम्प्यूटर भाषा तक के 300 से अधिक कोर्स कर सकेंगे। इसको लेकर संस्था के साथ एमओयू हो चुका है। उम्मीद है कि जल्द ही यह कार्य शुरू हो जाएगा। कॉलेज प्रशासन की ओर से नोडल अधिकारी भी नियुक्त कर दिया गया है। इस सेंटर में विद्यार्थी नियमित कक्षाओं के साथ-साथ अन्य डिप्लोमा कोर्स भी कर सकेंगे, जिससे आने वाले समय में विद्यार्थियों के लिए रोजगार के साधन उपलब्ध हो सकें। इसके अलावा इस सेंटर में कॉलेज व अन्य संस्थानों के लेक्चरर भी यहां आकर अपना रिचर्स पूरा कर सकेंगे। कॉलेज के शिक्षकों और विद्यार्थियों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
सेंटर में स्थापित होंगे 200 से अधिक कंप्यूटर
आइटी सेंटर के नोडल अधिकारी डॉ. प्रताप सिंह ने बताया कि यह जिले का सबसे बड़ा सेंटर होगा, जिसमें 200 से अधिक कंप्यूटर स्थापित किए जाएंगे। यहां विद्यार्थी कम्यूटर से जुड़े 300 से अधिक कोर्स कर सकेंगे। साथ ही इसके शुरू होने से यहां पर ऑनलाइन परीक्षाओं के सेंटर भी आ सकेंगे, जिससे यहां के विद्यार्थियों को कहीं बाहर नहीं जाना पड़ेगा। डॉ. सिंह ने बताया कि कुछ सरकारी परीक्षाओं में कम्प्यूटर कोर्स अनिवार्य कर दिए गए हैं। लिहाजा विद्यार्थी अपनी डिग्री के साथ-साथ कम्प्यूटर कोर्स भी कर सकेगा, जिससे स्नातक की पढ़ाई पूरी होने के साथ ही कोर्स भी पूरा हो जाएगा।
कॉलेज के बाहर की होगी फैकल्टी
नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी सेंटर में डूंगर कॉलेज के बाहर की फैकल्टी पढ़ाने के लिए आएगी। कॉलेज की किसी पैकल्टी का उपयोग नहीं किया जाएगा। विद्यार्थियों के आवेदन आने के हिसाब से फैकल्टी की संख्या निर्धारित की जाएगी। इस सेंटर के खुलने से कॉलेज के ऊपर कोई भार भी नहीं होगा।
300 से अधिक कोर्स
डिप्लोमा इन इंस्टॉलेशन एंड रिपेयर ऑफ कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स प्रोडक्ट, सोलर पॉवर इंस्टॉलेशन, ऑपरेशन एंड मेंटिनेंस, डिप्लोमा इन कम्प्यूटर हार्डवेयर मेंटिनेंस, सोलर एलइडी लाइट प्रोडक्ट, सर्टिफिकेट कोर्स ऑन प्रिंटेड सर्किट बोर्ड डिजाइन , एडवांस डिप्लोमा-पीएलसी/ एससीएडीए/ डीसीएस इंजिनियर, एडवांस पीजी डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट डिजाइन एंड मेनुफेक्चरिंग, सीसीसी, सर्टिफिकेट कोर्स इन डाटा एंट्री, ओ-लेवल, ए-लेवल, टूल डिजाइन सहित 300 से अधिक कोर्स।
जल्द शुरू होगा निर्माण कार्य
एमओयू हो चूका है। जल्द ही सीपीडब्ल्यूडी के माध्यम से निर्माण कार्य शुरू हो जाएगा। यह सेंटर कॉलेज के विद्यार्थियों के लिए काफी उपयोगी होगा। साथ ही यह सरकारी कॉलेज में शुरू होने वाला प्रदेश का पहला सेंटर होगा। इस सेंटर के लिए कॉलेज की ओर से नोडल अधिकारी नियुक्त कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.