3 बेटियों को फेंक टांके में कूदी मां

बाड़मेर। राजस्थान में लगातार मां और बच्चों की सुसाइड के दर्दनाक हादसे सामने आ रहे हैं। आज बाड़मेर में भी एक मां ने अपनी तीन बेटियों के साथ आत्महत्या कर ली। इससे पहले गुरुवार को चित्तौड़गढ़ में भी ऐसी ही घटना घटी थी। दरअसल, आज बाड़मेर के बायतू में एक मां ने पहले अपनी तीन मासूम बेटियों को एक-एक कर पानी से भरे टांके में फेंका और फिर खुद भी दूसरे टांके में कूद गई। घटना में चारों की मौत हो गई। घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। विवाहिता के पीहर पक्ष को भी सूचना दी है। घटना बायतु थानान्तर्गत अकदड़ा गांव की है। विवाहिता के घर के पास दो टांके बने हुए थे। पुलिस के अनुसार घटना सुबह करीब छह बजे की है। सुबह जब परिवार के सदस्यों को मासूम बच्चियां व विवाहिता नहीं दिखीं तो उनकी इधर-उधर तलाश की। टांके के पास जाकर देखा तो तीन मासूम बच्चों व विवाहिता का शव मिले। परिजनों व ग्रामीणों ने बायतु पुलिस को सूचना दी। वहीं विवाहिता के पीहर को भी सूचना दे दी है।घटना में जस्सी (30) के साथ ज्योत्सना (6), मोनिका (4), दीक्षा (2) की मौत हो गई। पुलिस के अनुसार पीहर पक्ष के आने के बाद शव को बाहर निकाला जाएगा। रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी। शव का पोस्टमार्टम करवाया जाएगा। पुलिस ने बताया कि जस्सी की अकदड़ा गांव निवासी कौशलाराम के साथ 10 साल पहले शादी हुई थी। दोनों का एक बेटा कैलाश (9) भी है। सुसाइड के कारणों का खुलासा नहीं हो सका है।बाड़मेर डीएसपी आनंद सिंह राजपुरोहित के मुताबिक सुबह करीब 5-6 बजे पति उठा तो पत्नी और 3 बच्चियां नहीं दिखने इधर उधर देखा। तीन बच्चियां घर के बाहर की तरफ टांके में मिली। विवाहिता घर से करीब 200 मीटर दूर टांके में मिली। पति शराब का नशा करता था। पत्नी इससे परेशान थी। प्रथम दृश्यता इसी के चलते सुसाइड करने की बात सामने आ रही है। पीहर पक्ष के आने के बाद जैसी रिपोर्ट देंगे वैसी कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.