पुकार अभियान के तहत मातृ-शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण पाठशाला आयोजित उदासर में जिला कलक्टर ने निभाई भागीदारी

बीकानेर तहलका । पुकार अभियान के तहत बुधवार को शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में मातृ-शिशु स्वास्थ्य एवं पोषण पाठशालाओं का आयोजन हुआ। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने उदासर में गर्भवती महिला के आवास पर आयोजित पाठशाला में भागीदारी निभाई। उन्होंने कहा कि गर्भधारण से बच्चे के दो वर्ष के होने तक के लगभग एक हजार दिन बेहद महत्वपूर्ण होते हैं। इस दौरान दोनों के स्वास्थ्य और पोषण के प्रति पूर्ण जागरुक रहना जरूरी होता है। उन्होंने कहा कि इसी उद्देश्य के साथ पिछले लगभग छह महीनों से इन पाठशालाओं का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने प्रसव पूर्व एवं पश्चात सभी जांचें करवाने तथा संस्थागत प्रसव के लिए प्रेरित किया। उन्होंने मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना की जानकारी दी। इस दौरान महिलाओं के खून की जांच की गई। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मोहम्मद अबरार पंवार ने बताया कि बुधवार को जिले में 352 स्थानों पर पुकार पाठशालाएं हुई। इनमें लगभग 8 हजार 300 महिलाओं की भागीदारी रही। इनमें 3 हजार 346 गर्भवती एवं धात्री तथा 4 हजार 342 किशोरी बालिकाएं शामिल हैं। उन्होंने बताया कि इस दौरान आयरन फॉलिक एसिड की 30 हजार 319 टेबलेट वितरित की गईं। कार्यक्रम में आरसीएचओ डॉ. राजेश गुप्ता, ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. सुनील हर्ष, ऋषि कुमार कल्ला सहित स्थानीय महिलाएं शामिल हुई। उल्लेखनीय है कि मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य के मद्देनजर 6 अप्रैल को जिले में इन पाठशालाओं की शुरूआत हुई थी। इसके तहत प्रत्येक बुधवार को इनका आयोजन होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.