मांगों को लेकर मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव ने दिखाएं तीखे तेवर,निकाली रैली

तहलका न्यूज,बीकानेर। दवाओं की कीमतें कम करने और दवाओं को जीरो जीएसटी में रखने सहित 16 सूत्रीय मांगों को लेकर जिले के मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव आज हड़ताल पर रहे। अखिल भारतीय संगठन एफएमआरएआई के आह्वान पर की गई इस हड़ताल के दौरान मेडिकल रिप्रेजेंटेटिव की ओर से जिला कलक्टर कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया गया। इससे पहले आन्दोलनकारियों ने सांकेतिक रैली भी निकाली। प्रदर्शनकारी दवा और मेडिकल उपकरणों की ऑनलाइन बिक्री पर रोकने,न्यूनतम वेतन 26 हजार करने,अनफेयर मार्केटिंग बंद करने की मांग कर रहे थे। हड़ताली एमआर ने कहा कि अगर मांगे नहीं मानी गई तो आने वाले दिनों में बड़ा आन्दोलन किया जाएगा।
राज्य सरकारों से मांगे हैं कि
जीडीपी का 5 प्रतिशत स्वास्थ्य सेवाओं पर खर्च किया जाय , पब्लिक सेक्टर फार्मा कंम्पनिज और सरकारी वैक्सीन निर्माण को पुनर्जीवित किया जाय और स्वास्थ्य सेवाओं का कोर्पोरेटाईजेशन रोका जाए ।
नए बनाये 4 लेबर कोड को खत्म किया जाय और एसपीई एक्ट1976 और अन्य 44 श्रम कानूनों को पहले की तरह बहाल किया जाएं ।
एसपीईएस के लिये काम के नियम तय किये जाएं।
ये सुनिश्चित किया जाय कि राज्य में कंम्पनियां सभी श्रम कानूनों का पूर्णतया पालन करे ।
न्यूनतम वेतन 26000 किया जाए
सभी दवा कंम्पनी एसपीई एक्ट1976 की पालना करे और आईडी एक्ट अमेंडेट 2010 अनुसार हर कंपनी में समस्या निवारण समिति का गठन किया जाय जो कानूनन जरूरी है ।
सेल्स से जोड़कर विकटेमाईजेशन , जॉब लॉस और तनख्वाह अल्लावेन्स इत्यादि काटना बन्द हो।
इलेक्ट्रॉनिक गजट के माध्यम से सर्विलेंस, ट्रेकिंग और डेटा प्रोवेसी में घुसपैठ बन्द करो ।
अनएथिकल और अनफेयर मार्केटिंग बन्द करो ।
पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों के अनुरूप दैनिक भत्ते और यात्रा भत्ते बढ़ाये जाएं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.