विद्यार्थियों मेंं प्रकट किया मातृ प्रेम

तहलका न्यूज,बीकानेर। करणी नगर लालगढ़ स्थित स्वामी आरएनआरएसवी विद्यालय मैं मदर्स डे के अवसर पर प्राइमरी विंग के विद्यार्थियों ने अपनी माताओं के प्रति अपने श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए मदर्स डे मनाया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में किंडर गार्डन के बच्चों की 80 माताओं को आमंत्रित किया गया एवं उन्हें स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मानित किया गया। विद्यालय में नन्हे बालक बालिकाओं के साथ माताओं ने भी मदर्स डे पर पूरा आनंद उठाया। नन्हे बालक बालिकाओं ने अपनी माताओं के समक्ष नृत्य के रूप में अपने अभिव्यक्ति को प्रस्तुत किया। इस अवसर पर विद्यालय की समस्त अध्यापिकाओ ने विद्यार्थियों का उत्साह वर्धन किया। श्रीमती बिंदु विश्नोई ने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए अपनी माता के प्रति सदैव आदर भाव बनाए रखने हेतु प्रेरित किया।
आरएसवी ने मनाया मातृत्व दिवस
जय नारायण व्यास कॉलोनी स्थित आरएसवी उच्च माध्यमिक विद्यालय के बालक बालिकाओं ने आज बड़े उत्साह के साथ मातृत्व दिवस ;मदर्स डेद्ध मनाया। कार्यक्रम की जानकारी देते हुए आरएसवी ग्रुप ऑफ स्कूल्स के प्रवक्ता रविंद्र भटनागर ने बताया की विद्यालय के नर्सरी तथा किंडर गार्डन में अध्यनरत 200 बालक बालिकाओं की माताओं ने भी इस कार्यक्रम में उत्साह पूर्वक भाग लिया। माता के प्रति अपनी श्रद्धा एवं विश्वास को प्रकट करने वाले विभिन्न कार्यक्रमों को प्री प्राइमरी के नन्हे बालक बालिकाओं ने प्रस्तुत किया जिससे उपस्थित मातृशक्ति की आंखें नम हो गई एवं उनके मन में अपने आंख के तारों के प्रति प्रेम उभर आया। सीनियर विंग के बालक बालिकाओं ने भी अपनी माता के प्रति अपने मन के उदगार ऑडिटोरियम के मंच पर आकर बड़े प्रेम भाव से प्रकट किए। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के पद महिला एवं बाल विकास को समर्पित वूमेंस पावर सोसाइटी की जिला अध्यक्ष श्रीमती ममता राजपूत ने सुशोभित किया। विद्यालय द्वारा विद्यार्थियों के मन में अपने परिवार के प्रति उत्पन्न किए जा रहे संस्कारों एवं विचारों के लिए मुख्य अतिथि ने विद्यालय को धन्यवाद प्रदान किया एवं माता की अहमियत को प्रत्येक बालक बालिका के जीवन सबसे महत्वपूर्ण बताया। माता ही अपनी संतान में सद्गुण उत्पन्न करने वाली प्रथम गुरु होती है। माता के ही द्वारा ही संतान में चरित्र निर्माण के बीज बोए जाते हैं। कार्यक्रम का सफल संचालन विद्यालय की इंग्लिश विषय की एचओडी श्रीमती हेमा क्वात्रा ने किया। कार्यक्रम में विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए विद्यालय की प्रधानाचार्य श्रीमती निधि स्वामी ने विद्यार्थियों के जीवन में माता के महत्व को स्पष्ट किया एवं माता को विद्यार्थियों का प्रथम गुरु बताते हुए कहा कि यदि माताएं चाहे तो समाज में निश्चित रूप से परिवर्तन ला सकती हैं। वही अपने पुत्र. पुत्रियों की सोच मैं परिवर्तन लाने में सक्षम है। विद्यालय भी इसमें निश्चित रूप से अच्छा सहयोग प्रदान कर सकते हैं। विद्यार्थियों को भी उन्होंने शिक्षा प्रदान की कि अपने माता.पिता का सदैव आदर करना चाहिए तथा उनके अनुभवों का लाभ अपने जीवन में उठाना चाहिए। कार्यक्रम में प्राइमरी विंग की निर्देशिका श्रीमती अंबिका गौतम ने भी नन्हे बालक बालिकाओं का उत्साह वर्धन किया आपने बताया कि ग्रीष्मकालीन अवकाश में भी विद्यार्थियों मैं शैक्षणिक सहगामी प्रवृत्तियों को बढ़ावा देने हेतु समर कैंप का भी आयोजन किया जा रहा है । इसमें विद्यार्थियों के साथ उनके भाई बहन के साथ.साथ उनकी माताएं भी भाग ले सकती हैं। कार्यक्रम में प्राइमरी विंग कोऑर्डिनेटर श्रीमती श्वेता दाधीच एवं प्राइमरी विंग की अध्यापिकाऔ ने भी भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.