कतिन बुनकरों को नियमित रोगजार के लिये खादी को बढ़ावा देना जरूरी : बसन्त

तहलका न्यूज़,बीकानेर। दो दिवसीय दौरे पर बीकानेर आए खादी और ग्रामोद्योग आयोग, सूक्ष्म लगु एवं मध्यम उद्यम मंत्रालय के उत्तर क्षेत्र के सदस्य बसन्त ने यहां दुसरे दिन मंगलवार को जिले की खादी संस्थाओं का निरीक्षण किया तथा खादी संस्थाओं में कार्यरत कतिन बुनकरों एवं कार्यकर्ताओं से वार्ता की। इस दौरान कतिन बुनकरों एवं कार्यकर्ताओं ने बसन्त को अपनी मांगों से अवगत करवाया। जिस पर उन्होंने जल्द ही उनकी मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया। इस दौरान उन्होंने खादी को बढ़ावा देने का आह्वान किया ताकि कतिन बुनकारों एवं कामगारों को नियमित रोजगार मिल सके। इस मौके पर उन्होंने कहा कि युवाओं को भी खादी संस्थाओं में जोड़ा जायेगा। इसके पश्चात उन्होंने किसान भवन में आयोजित खादी ग्रामोद्योग आयोग की बैठक में खादी संस्थाओं के पदाधिकारियों को संबोधित किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि खादी को बढ़ावा देने के लिये तथा लोगों में खादी के प्रति रूझान बढ़ाने के लिये खादी के नए-नए वस्त्र तैयार किये जा रहे है। उन्होंने बताया कि आजादी अमृत महोत्सव के लिये विशेष रूप से खादी के कपड़े से बना तिरंगे का बैच तैयार किया जा रहा है। जिसे आसानी के शर्ट की जेब पर लगाया जा सकता है। उन्होंने बताया कि खादी के कपड़े से बने तिरंगे के बेच स्कूली बच्चों व कॉलेजी छात्र-छात्राओं को काफी पसंद आयेंगे। इस मौके पर बसन्त ने कहा कि देश में ७५वीं आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है। जिसके तहत अगस्त माह में एक बड़ा कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। जिसमें खादी ग्रामोद्योग आयोग की ओर से खादी के लिये सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले पदाधिकारियों एवं कतिन बुनकरों तथा कार्यकर्ताओं का सम्मान किया जायेगा। बैठक में खादी ग्रामोद्योग आयोग निदेशक बद्रीलाल मीणा, खादी संभाग अधिकारी शिशुपाल सिंह, झंवरलाल पन्नू, श्रीकिशन व्यास, गिरधारी कुकणा, भंवरलाल चंदन, चन्द्रप्रकाश, अमरचंद, हजारीमल देवड़ा, भगवतीप्रसाद पारीक आदि खादी संस्थाओं के पदाधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.