स्कूली परीक्षाओं में इतने प्रतिशत अंक लाना जरूरी

तहलका न्यूज,बीकानेर। प्रदेश भर में माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की 10 वीं 12वीं परीक्षा संपन्न होने के बाद परीक्षा परिणाम की तैयारियां शुरू हो चुकी है। इस कड़ी में कक्षा 9 व 11 वीं के परिणाम तथा कक्षोन्नति संबंधी निर्देश भी जारी किए गए हैं। उल्लेखनीय है कि जिला समान परीक्षा योजना अंतर्गत स्थानीय परीक्षाएं 28 अप्रेल से चल रही है जो कि 11 मई तक जारी रहेंगी।माध्यमिक शिक्षा निदेशक बीकानेर गौरव अग्रवाल ने एक आदेश जारी कर समस्त जिला शिक्षा अधिकारी मुख्यालय व समस्त संयोजक जिला समान परीक्षा योजना निर्देशित किया था। इसमें राजकीय विद्यालयों को कक्षा 6,7 9 तथा कक्षा-11 का परीक्षा परिणाम शाला दर्पण पोर्टल पर ही तैयार किया जाना है। इसके लिए मॉड्यूल भी जारी कर दिया है। ये परीक्षा परिणाम आवश्यक रूप से 16 मई को जारी किया जाएगा। इसके साथ ही 17 मई से स्कूलों में ग्रीष्मावकाश शुरु हो जाएगा।
-यूं रहेगी कृपांक की व्यवस्था
परीक्षा परिणाम में कृपांक के लिए विद्यार्थी का आचरण व व्यवहार उस सत्र में उत्तम होना जरूरी है। अधिकतम दो विषयों में क्रमांक दिए जाएंगे।यदि विद्यार्थी एक विषय में अनुत्तीर्ण है तो उस विषय में पूर्णांक का अधिकतम 5 प्रतिशत कृपांक जबकि विद्यार्थी दो विषयों में असफल रहे तो प्रत्येक सम्बधित विषय में उसके पूर्णांक के अधिकतम दो-दो प्रतिशत कृपांक दिए जा सकते हैं।
-अतिरिक्त विषयों में अनुपस्थित विद्यार्थी भी होंगे उत्तीर्ण
वार्षिक परीक्षा के लिए अतिरिक्त विषयों जैसे कला शिक्षा,स्वास्थ्य एवं शारीरिक शिक्षा तथा जीवन कौशल आदि में विद्यार्थियों को परीक्षा के कुल 100 अंकों में से प्राप्त अंकों के आधार पर यह ए प्लस से डी तक की ग्रेडिंग दी जाएगी। यदि कोई विद्यार्थी वार्षिक परीक्षा में इन विषयों में अनुपस्थित हो परंतु अन्य विषयों में उतीर्ण है तो विद्यार्थी को डी श्रेणी मानकर उत्तीर्ण कर दिया जाएगा।
-यूं मिलेगी ग्रेडिंग
प्राप्त अंकों का प्रतिशत ग्रेड
0 से 40 डी
41 से 60 सी
61 से 75 बी
76 से 90 ए
91 से 100 ए-प्लस
9 वीं और 11 वीं कक्षा के जो विद्यार्थी वार्षिक परीक्षा में बिना सूचना के अनुपस्थित हैं उनका परिणाम नहीं तैयार किया जाएगा। परंतु रुग्णता प्रमाण पत्र के आधार पर विद्यार्थी वार्षिक परीक्षा में पुन: परीक्षा के लिए पात्र होंगे। जबकि कक्षा 1 से 4 और छठी-7वीं में पुन: परीक्षा अथवा पूरक परीक्षा का कोई प्रावधान नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.