निरीक्षण में खामियां आई सामने,लिये नमूने,तहलका ने प्रमुखता से उठाया था मुद्दा

गुणवत्ता का ध्यान रखने के दिए स्पष्ट निर्देश
तहलका न्यूज,बीकानेर। जिला कलक्टर भगवती प्रसाद कलाल ने मंगलवार को क्वालिटी कंट्रोल विंग के अधिकारियों के साथ शहर में हाल ही में बनी विभिन्न सड़कों का निरीक्षण किया। सड़क निर्माण में काम आए मेटेरियल की गुणवत्ता जांच के लिए नमूने लिए। प्रगतिरत कार्य का टेस्ट करवाया। जलदाय विभाग की पाइपलाइन नॉर्म्स के अनुसार नहीं होने पर नाराजगी जताई। उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि गुणवत्ता में कमी पाई गई तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी।
जिला कलक्टर ने राजीव गांधी मार्ग में पीडब्ल्यूडी द्वारा हाल ही में बनाई गई सड़क का अवलोकन किया। सड़क निर्माण में उपयोग मेटेरियल और यहीं ड्रम में पड़े डामर के नमूने जांच के लिए भिजवाए। उन्होंने बताया कि राजीव गांधी मार्ग सड़क का कारपेट का कार्य पूर्ण हो चुका है। सड़क के दोनों ओर सीसी ब्लॉक लगाए जाएंगे। वहीं बीच में लाइनिंग करते हुए सोलर आधारित कैट आई लगाई जाएगी। उन्होंने पूरी सड़क का पैदल चलकर मुआयना किया। शाम के समय यहां लगने वाली थडिय़ों को व्यवस्थित करवाने और एक ओर रैलिंग लगवाने के निर्देश दिए, जिससे यह थडिय़ां अनावश्यक आगे तक नहीं आएं। उन्होंने सार्दुल स्कूल मैदान का अवलोकन भी किया।
नियमानुसार गहरे नहीं थे पाइप, जताई नाराजगी
जिला कलक्टर ने गोगागेट से उदयरामसर तक बनने वाली सिक्स लेन रोड के चौड़ाईकरण कार्य का निरीक्षण किया तथा मौके पर ही डेनसिटी टेस्ट करवाया, जो कि गुणवत्ता अनुरूप पाया गया। इस दौरान विभिन्न स्थानों पर जलदाय विभाग के पाइप, रोड से लगभग एक फिट नीचे ही पाए गए। जो कि नॉर्म्स के अनुसार सही नहीं थे। इस पर जिला कलक्टर ने नाराजगी जताई और कहा कि जलदाय विभाग द्वारा यह पाइप नियमानुसार गहराई में डाले जाएं, जिससे सड़क निर्माण के दौरान पाइप क्षतिग्रस्त नहीं हो और सड़क को भी नुकसान नहीं पहुंचे। उन्होंने बताया कि गोगागेट से उदयरामसर तथा उरमूल सर्किल से करमीसर फांटा तक की सड़क सिक्स लेन बनाई जाएगी। इस पर 15 करोड़ रुपये व्यय होगा।
निगम की सड़कों के भी लिए नमूने
जिला कलक्टर ने नगर निगम द्वारा गोपेश्वर बस्ती और पुष्करणा स्टेडियम के पास बनाई गई सड़कों का निरीक्षण किया और जांच के लिए इन सड़कों के नमूने भी लिए। उन्होंने स्थानीय निकाय द्वारा रंगा कॉलोनी की ओर जाने वाली डामर सड़क निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। लगभग 12 सौ मीटर लम्बी सड़क का कारपेट किया जाएगा। उन्होंने एक संवेदक की प्रयोगशाला का निरीक्षण किया तथा मेटेरियल की गुणवत्ता जांच के बारे में जाना। इस दौरान सार्वजनिक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता मुकेश गुप्ता, अधीक्षण अभियंता (गुण नियंत्रण) डी. पी. सोनी, अधिशाषी अभियंता जे. पी. अरोड़ा, तहसीलदार बिहारी लाल सहित अन्य अधिकारी साथ रहे।
तहलका ने प्रमुखता से उठाया था मुद्दा
शहर की नई बनी सड़कों को लेकर तहलका न्यूज बीकानेर ने बड़ी प्रमुखता से इस मुद्दे को उठाया था। जिसमें लोकेशन वाइज छायाचित्र भी उपलब्ध करवाएं गये थे कि अगर इसकी जांच हो तो निश्चित रूप से खामियां सामने आएगी। हालांकि अभी तक प्रशासन ने इसके नमूने लिये है। अगर उनकी निष्पक्ष रूप से जांच होगी तो इन नवनिर्मित सड़कों में गड़बड़झाला पकड़ में आएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.