जिले में इन व्यापारियों के यहा पड़े आयकर के छापे,इस व्यापारी की बिगड़ी तबियत

तहलका न्यूज़,बीकानेर। आयकर विभाग ने गुरुवार को बीकानेर और नोखा में आधा दर्जन घरों पर छापेमारी की। इस दौरान नोखा में जिस घर पर आयकर विभाग की टीम पहुंची, उसकी तबियत खराब हो गई। आयकर विभाग के अधिकारी ही उसे लेकर अस्पताल पहुंचे हैं। उधर, बीकानेर के गंगाशहर सहित तीन स्थानों पर छापे मारे गए हैं।आयकर विभाग ने सुबह करीब सात बजे नोखा में झंवर ग्रुप पर छापेमारी की कार्रवाई शुरू की। झंवर के साथ ही उनके सहयोगियों के घरों पर भी आयकर विभाग की टीम पहुंची। इसमें तापड़िया के घर भी आयकर टीम पहुंची। इस दौरान तापड़िया का स्वास्थ्य बिगड़ा तो आयकर विभाग के अधिकारी ही उन्हें अस्पताल लेकर पहुंचे। उधर, बीकानेर शहर में चायल ग्रुप और राठी ग्रुप पर भी कार्रवाई की जा रही है। छापेमारी में अब तक भारी संख्या में लेनदेन के दस्तावेज और नगदी मिली है। बताया जा रहा है कि बड़ी संख्या में सोने-चांदी की ज्वैलरी भी मिली है।

एक साथ पहुंची बीस से ज्यादा गाड़ियां

विभाग की टीमें बीस से ज्यादा गाड़ियों में एक साथ मौके पर पहुंची। एक टीम नोखा के श्रीनिवास झंवर के घर पहुंची तो दूसरी टीम नोखा में ही उनकी फैक्ट्री पर पहुंची। इसके अलावा हनुमान झंवर,लाला झंवर के प्रतिष्ठानों पर भी कार्रवाई की गई है। इसके अलावा बृजरतन तापड़िया से भी आयकर विभाग पूछताछ कर रहा है। तापड़िया की तबियत खराब होने पर उन्हें अस्पताल ले जाया गया।

राठी और चायल पर कार्रवाई

बीकानेर शहर में स्टार ग्रूप के जुगल राठी , धनपत चायल ओर दुग्गड ग्रूप पर भी कार्यवाई की जा रही है। इनमें धनपत चायल राजनीतिक पार्टी के पदाधिकारी है। वहीं जुगल राठी भी बीकानेर के बड़े व्यापारी है। राठी पिछले कुछ समय से एक राजनीतिक पार्टी के साथ अपना जुड़ाव दिखा रहे हैं। जुगल राठी के पास बाइक्स, कार सहित अन्य एजेंसियां है।

कोरोना काल की गड़बड़ी

बताया जा रहा है कि कोरोना काल में हुई खरीद फरोख्त के मामले में आयकर विभाग की नजर झंवर पर थी। उस समय की खरीद के बाद से कई शिकायतें भी झंवर परिवार के संबंध में केंद्र सरकार तक पहुंची थी, जिसके बाद आयकर विभाग को ये मामला सौंपा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.