बीकानेर सहित इन शहरों में भारी बारिश का अलर्ट

तहलका न्यूज़  जयपुर। पिछले 2 दिन से हो रही भारी बारिश ने दक्षिण-पूर्वी राजस्थान के बांधों को ओवरफ्लो कर दिया है। 10 बांधो के गेट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा है। 5 शहरों की प्यास बुझाने वाले बीसलपुर बांध का गेज 311.90 आरएल मीटर तक पहुंच गया। मौसम विभाग ने 24 घंटे के दौरान 6 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी जारी की है।

जोधपुर, बीकानेर संभाग में होगी बारिश
बीते 24 घंटे के दौरान कोटा, उदयपुर, जोधपुर संभाग के 7 जिलों में 4 इंच से ज्यादा बरसात हुई। मौसम केन्द्र जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि बंगाल की खाड़ी से जो डिप्रेशन सिस्टम बना था। वह अभी राजस्थान के दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र में एक्टिव है। यह पश्चिम-उत्तर की ओर से मूव कर रहा है। इससे अगले 24 घंटे के दौरान जोधपुर, बीकानेर संभाग के 6 जिलों में बारिश होगी।

चंबल नदी फुल कैपेसिटी के साथ बह रही
मौसम केन्द्र जयपुर के मुताबिक, उदयपुर, सिरोही, प्रतापगढ़, पाली, जोधपुर, झालावाड़, डूंगरपुर जिलों के कई इलाकों में 4 इंच (100MM) से ज्यादा बरसात हुई। सबसे ज्यादा बरसात प्रतापगढ़ के अरनोद में 173MM (7 इंच) हुई। राजस्थान, MP में हुई भारी बारिश के कारण चंबल नदी फुल कैपेसिटी के साथ बह रही है। इस पर बने सभी बांधों के गेट खोल दिए हैं।MP में बने गांधी सागर बांध के 8 गेट खोलकर पानी छोड़ा जा रहा है, जिसके चलते चित्तौड़गढ़ के राणा प्रताप सागर के 6, कोटा के जवाहर सागर के 7 और कोटा बैराज के 13 गेट खोलने पड़े हैं। कोटा बैराज से 11.80 लाख क्यूसेक से ज्यादा पानी छोड़ा जा रहा है।

अब आगे क्या?
मौसम केन्द्र जयपुर के निदेशक राधेश्याम शर्मा ने बताया कि वर्तमान में पूर्वी राजस्थान के ऊपर बना गहरा कम दबाव का तंत्र पश्चिमी राजस्थान के ऊपर पहुंच गया है। अगले 12 घंटों में इसके पश्चिम दिशा की ओर आगे बढ़ने की संभावना है। इस सिस्टम के असर से पश्चिमी राजस्थान के जोधपुर, बाड़मेर, जैसलमेर, जालोर, बीकानेर, नागौर में अगले 24 घंटे कहीं-कहीं भारी से अति भारी बारिश भी होने की संभावना है।

18 अगस्त से पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर, बाड़मेर को छोड़कर ज्यादातर भागों में बारिश की गतिविधियों में तेजी से कमी होगी। 19 अगस्त को एक और नया कम दबाव का क्षेत्र बंगाल की खाड़ी में फिर से बनने की संभावना है। इसके असर से पूर्वी राजस्थान के कुछ भागों में 21 अगस्त से बारिश का नया दौर शुरू होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.