हस्तशिल्प प्रदर्शनी का शुभारंभ

 

तहलका न्यूज,बीकानेर। स्थानीय ग्रामीण हाट में 10 दिवसीय हस्तशिल्प प्रदर्शनी का शुभारंभ आज केन्द्रीय राज्यमंत्री अर्जुनराम मेघवाल के कर कमलों से किया गया। केन्द्र सरकार के वस्त्र मंत्रालय के मार्केर्टिग योजनान्तर्गत मरू क्राफ्ट प्रोडूयसर कम्पनी लिमिटेड के माध्यम से आयोजन किया जा रहा है। कार्यक्रम में संभागीय आयुक्त नीरज के पवन, जिला उद्योग केन्द्र की महाप्रबंधक मंजू नेण गोदारा, नाबार्ड के जिला विकास प्रबंधक रमेश तांबिया,शौकत अली उस्ता व कृष्णचंद पुरोहित भी मौजूद रहे। मेले में हस्त निर्मित उत्पादों एवं अन्य घरेलू उपयोग 20 स्टॉल लगाई गयी है। अर्जुनराम मेघवाल ने सभी दस्तकार द्वारा लगाई स्टॉलों का भ्रमण कर उन्हें आगे प्रोत्साहन हेतु उनके उत्पादन में नवीनीकरण के बारे में बताया। नीरज के पवन ने कहा कि राज्य एवं केन्द्र सरकार के सहयोग से विभिन्न योजनाओं के अन्तर्गत आर्टीजनों के उत्थान हेतु मरू क्राफ्ट प्रोड्युसर कम्पनी लि द्वारा निरन्तर कार्य किया जा रहा है। समाज में आवश्यक उपयोगी उत्पदों के कच्चा माल की उपलब्धता एवं विपणन प्रक्रिया किस प्रकार से ई कॉर्मस के माध्यम से एवं मेलों के आयोजन से की जा सकती है। मंजू नेण गोदारा ने बताया कि राजस्थान कसीदाकारी एवं बंधनी काम के वस्त्रों हीरे जवाहरात जडे आभूषणों चमकते हुए नीले बर्तन और मीनाकारी के काम के लिए प्रसिद्ध है। उन्होने बताया कि उक्त कलाऐं हजारों सालों से पीढ़ी दर पीढ़ी पोषित होती आ रही है। रमेश ताम्बिया ने बताया कि कसीदाकारी राजस्थान के मरू प्रदेश बीकानेर की सर्वोत्तम कलाओं में से एक है इस कला को भौगोलिक संकेतक अस्थाई मिल चुका है तथा आगामी माह तक स्थाई पंजीकरण मिल जायेगा। बीकानेर में कसीदाकारी के लिए 2000-3000 आर्टीजन पंजीकृत है। जिसकी कार्यवाही उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, नई दिल्ली के कार्यालय में हस्तगत है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.