गणपति बप्पा पर भी मंहगाई की मार,महंगा सजेगा दरबार

तहलका न्यूज,बीकानेर। महंगाई का असर अब पर्व-त्योहारों पर भी साफ देखा जा रहा है. पूरे देश में 31 अगस्त को गणेश चतुर्थी का पर्व मनाया जाएगा। लेकिन भगवान गणेश की प्रतिमा पर भी अब जीएसटी का असर दिख रहा है। इस साल भगवान गणेश की मूर्तियों के दाम जीएसटी बढऩे की वजह से 40 फीसदी तक बढ़ गए हैं।जीएसटी की बढ़ी हुई दरों ने भगवान गणेश की मूर्तियों की कीमतों को आसमान पर पहुंचा दिया है। देश के बाजारों में गणपति बप्पा पहले की तुलना में अब डेढ़ से दो गुना ज्यादा महंगे बिक रहे है। आपको बता दें कि गणपति की औसत प्रतिमा, जो कोरोना काल से पहले 200 से 500 रुपये में उपलब्ध हुआ करता था, वह इस साल 1000 से 1200 रुपये में बिक रहे हैं। भगवान गणेश की अलग-अलग प्रतिमा बनाने वाले मूर्तिकार धर्मपाल के मुताबिक, ‘पिछले दिनों सरकार ने कई चीजों पर जीएसटी लगा दिया था. इससे मूर्ति बनाने में इस्तेमाल होने वाले कच्चे माल की कीमतों में उछाल आ गया. जीएसटी की वजह से भगवान गणेश मूर्तियों के दाम हमलोगों ने इस साल बढ़ा दिया है. भगवान गणेश की मूर्ति का कोई भी साइज आप खरीदेंगे हर मूर्ति पर पहले की तुलना में दाम बढ़े मिलेंगे. सजाने से रंगने के सामान के दाम बढ़ गए हैं. पहले कपड़े की कीमत प्रति मीटर 35 से 40 रुपये से बढ़ कर 50 से 55 तक पहुंच गई है. मूर्तियों के श्रृंगार के लिए ऑयल पेंट की कीमतों में भी इजाफा हो गया है। 30 प्रतिशत तक दाम बढ़ गए हैं. ब्रश, मिट्टी, बांस और बिचाली के साथ लेबर कॉस्ट भी बढ़ गए हैं
श्रीआदि गणेश में कल से पंचकुण्डिय यज्ञ
बीकानेर। प्रथम पूज्य भगवान गणेश का जन्मोत्सव गणेश चतुर्थी 31 अगस्त को मनाया जाएगा। जिसको लेकर घरों व मंदिरों में तैयारियां जोर शोर से की जा रही है। शहर के अनेक गणेश मंदिरों में सजावट के साथ रंग रोगन किया जा रहा है। इस दिन से अनेक स्थानों पर गणेश पंडाल भी सजाएं जाएंगे। जहां दस दिनों तक अनेक आयोजन होंगे।श्रीआदि गणेश मंदिर में कल से पंच कुण्डीय महायज्ञ होगा। दो दिनों तक चलने वाले इस यज्ञ में देश व प्रदेश की सुख समृद्वि के लिये आहुतियां दी जाएगी। आयोजन से जुड़े गोपाल रंगा ने बताया कि पं राजेन्द्र किराडू के आचार्यत्व में वेदपाठी ब्राह्मण वेद मंत्रों के साथ पांच यजमान आहुतियां देंगे। इसको लेकर आज तैयारियों को अंतिम रूप  दिया गया। उधर मंदिरों में बांटे जाने वाले प्रसाद को बनाया जाने लगा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.