ओझा ने अपने ही फूंफा को लगाया चूना,बैंक से उड़ा लिये 19.80 लाख

तहलका न्यूज,बीकानेर। शहर के नयाशहर थाना क्षेत्र में सेवानिवृत कर्मचारी से 19.80 लाख रूपये चुराने के प्रकरण का राजफाश हुआ है। पुलिस ने इस मामले में दो जनों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों ने ऐश आराम करने के लालच में आकर अपने ही रिश्तेदार के साथ यह धोखाधड़ी की। पत्रकारों को जानकारी देते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित कुमार ने बताया कि मुख्य आरोपी परिवादी के साले के लड़के गजानंद ओझा ने अपनी मंगेतर के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया। सीए फाइनल ईयर के इन दोनों आरोपियों ने 61 वर्षीय महावीर सारस्वत के जस्सूसर गेट बैंक शाखा से सेल्फ चैक के जरिये फर्जी हस्ताक्षर कर सेविंग खाते से 19.80 लाख रूपये निकाल लिये। जिसकी एफआईआर दर्ज करवाने के बाद सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस ने आरोपियों तक पहुंच। चार दिनों में इस वारदात को अंजाम देने वालों को गिरफ्तार किया। बताया जा रहा है कि परिवादी महावीर प्रसाद का बेटा जयपुर के एक अस्पताल में भर्ती है और जब वो इलाज के लिये रूपये निकालने गया तो खाते में महज 1700 रूपये की सूचना से उसके होश उड़ गये। इस घटना को उजागर करने वाली टीम में नयाशहर थानाधिकारी गोविन्द सिंह,एसआई चन्द्रजीत सिंह,हैड कानि रामचन्द्र,बलवीर,अमित कुमार,बुधराम,महेन्द्र,महिला कानि राधा,प्रियंका,व सुमन शामिल रही।
यह है मामला
आपको बता दें कि दम्‍माणी चौक निवासी महावीर प्रसाद सारस्‍वत ने नयाशहर पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई की मेरा एसबीआई जस्‍सूसर शाखा में सेविंग एकाउंट है। इस एकाउंट से मैंने चैक बुक भी जारी करा रखी है। उसी चैक बुक में से किसी अज्ञात व्‍यक्ति ने मेरा हस्‍ताक्षरित चैक मेरे घर से चुराकर 27 अप्रेल को मेरे खाते से सेल्‍फ चैक लगाकर बैंक मैनेजर के साथ आपराधिक षडयंत्र रचते हुए बिना मुझे जानकारी दिए 19 लाख 80 हजार रुपए धोखाधडी करते हुए निकाल लिए। परिवादी के अनुसार, उसका बेटा जयपुर अस्‍पताल में भर्ती है। उसके इलाज के लिए रुपए निकालने गया तब उसे पता चला कि उसके खाते से रुपए निकल गए।पुलिस अधीक्षक योगेश यादव ने इस मामले को गंभीरता से लते हुए एएसपी अमित कुमार, सीओ सिटी दीपचंद के निकट सुपरविजन में नयाशहर थानाप्रभारी गोविंद सिंह चारण की अगुवाई में टीम गठित की। टीम ने त्‍वरित गति से अनुसंधान करते हुए सबसे पहले बैंक के सीसीटीवी फुटेज जुटाए।उसके आधार पर संदिग्‍धों से पूछताछ शुरू की गई। पूछताछ में आरोपियों ने राज उगल दिया। इस आधार पर पुरानी लाइन गंगाशहर में ब्राहमणों का मोहल्‍ला निवासी गजानंद (29) पुत्र रमेश ओझा व उसकी मंगेतर डूडी पेट्रोल पंप के पीछे निवासी अन्‍नपूर्णा सारस्‍वत को गिरफतार कर लिया। बाद में उनसे उक्‍त राशि भी बरामद कर ली गई। आरोपी गजानंद परिवादी महावीर प्रसाद के साले का बेटा है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.