बढ़ेगा घर-घर सर्विलेंस का दायरा

तहलका न्यूज,बीकानेर। अतिवृष्टि के बाद मच्छरों का प्रसार तथा गत वर्ष की भांति डेंगू का प्रकोप ना हो इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने पूरी ताकत झोंक रखी है। 22 अगस्त से शुरू हुए विशेष डेंगू रोधी अभियान के अंतर्गत नियमित सर्वे तथा एंटी लारवा-एंटी एडल्ट गतिविधियां जारी है। राज्य सरकार द्वारा अभियान को 2 सितंबर से बढ़ाकर 10 सितंबर तक कर दिया गया है। इस मुहिम से मंगलवार को 130 नर्सिंग विद्यार्थी और जुड़ गए। स्वास्थ्य भवन सभागार में विभिन्न नर्सिंग कॉलेज के विद्यार्थियों को डेंगू रोधी अभियान के लिए एंटी लारवा तथा एंटी एडल्ट एक्टिविटी का गहन प्रशिक्षण दिया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ मोहम्मद अबरार पंवार ने सभी विद्यार्थियों को शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र वार विभक्त कर घर-घर मच्छर रोधी कार्यवाही के लिए पाबंद किया। डिप्टी सीएमएचओ स्वास्थ्य डॉ लोकेश गुप्ता ने एंटी लारवा गतिविधियों को बारीकी से समझाते हुए निर्देश दिए कि प्रत्येक सर्वे किए गए घर में इन गतिविधियों को दोहराया जाए तथा घर के निवासियों को ही इसका प्रशिक्षण दिया जाए। प्रशिक्षण में राजीव गांधी नर्सिंग कॉलेज, ब्राइट नर्सिंग कॉलेज, डॉ तनवीर मलावत नर्सिंग कॉलेज, एम एन नर्सिंग कॉलेज के विद्यार्थी शामिल हुए। इस अवसर पर सहायक मलेरिया अधिकारी अशोक व्यास, अजय भाटी,प्रदीप चौहान, दिनेश श्रीमाली मौजूद रहे।
616 टीमों ने किया 22,325 घरों का सर्वे
डॉ अबरार ने बताया कि डेंगू रोधी विशेष अभियान के अंतर्गत मंगलवार को 616 टीमों द्वारा जिले भर में 22,325 घरों का सर्वे कार्य किया गया जिसमें 2,013 पेयजल स्रोतों में टेमीफोस डाला गया, 2,693 गंदे पानी के स्थानों पर एमएलओ डाला गया, 217 घरों में लारवा पाए गए, 221 घरों में बुखार के मरीज मिले जिनकी मलेरिया जांच के लिए स्लाइड बनाई गई। सर्वे कार्य प्रतिदिन अनवरत जारी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.