बहू को घर नहीं भेजा, गोली मारकर भाई की हत्या

तहलका न्यूज,बीकानेर। विवाह के बाद बहू को घर नहीं भेजने से नाराज होकर ससुराल वालों ने पिछले दिनों पीहर पक्ष के खेत में फायरिंग करके एक युवक की हत्या कर दी थी। इसी मामले में पुलिस ने चौथा आरोपी गिरफ्तार कर लिया है, जबकि तीन अन्य पहले से पुलिस रिमांड पर चल रहे हैं। इस मामले में नागौर के दो और बीकानेर के एक युवक को पहले ही गिरफ्तार किया जा चुका है। चौथी गिरफ्तारी भी बीकानेर के हिम्मटसर गांव के युवक की हुई है। इन चारों युवकों की उम्र महज 19 से 22 साल के बीच है।दरअसल, नौ मई को नोखा के हिम्मटसर गांव में सो रहे एक परिवार पर रात करीब तीन बजे ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी गई थी। इसमें एक युवक रामेश्वर लाल की मौके पर ही मौत हो गई। रामेश्वर जब मौके से भागने लगा तो उसके पीछे से फायर किए गए।परिवार के अन्य सदस्य अंधेरे में छिप गए थे, इसलिए बच गए। पुलिस में दर्ज एफआईआर में जिन लोगों को नामजद किया गया था, उनकी गिरफ्तारी पुलिस ने अगले दिन ही शुरू कर दी। इनमें नागौर के सुनिल बिश्नोई निवासी कंवलीसर नागौर, रामसिंह विश्नोई निवासी कंवलीसर नागौर और कैलाश बिश्नोई निवासी हिम्मटसर को गिरफ्तार किया गया था। अब पुलिस ने इस मामले में चौथे आरोपी रामदिलीप बिश्नोई उम्र 19 साल निवासी हिम्मटसर नोखा को गिरफ्तार कर लिया है।
क्या है मामला?
हजारीराम बिश्नोई ने पुलिस को बताया था कि उसकी बेटी गीता की शादी नागौर के मलकीसर निवासी ओमप्रकाश के साथ की गई थी। आरोप है कि ओमप्रकाश शारीरिक व मानसिक रूप से अस्वस्थ है। ऐसे में गीता उनके साथ नहीं रहती। वो पीहर में रहती है। इसी से नाराज होकर उनके ससुराल पक्ष ने हमला किया।पहले इस तरह की धमकियां दी गई थी कि हम गीता को उठाकर ले जाएंगे। जिस दिन हमला किया गया, उस दिन गीता वहां नहीं थी। ससुर जीवराज पर धमकी देने का आरोप है।
दस मई की रात करीब साढ़े तीन बजे जीवराज, भवरलाल, शिवनारायण, सुनिल, राजेन्द्र, पूनम, रामसिंह, रिछपाल बिश्नोई निवासी गांव कंवलीसर जिला नागौर व हरिराम, धनराज, कैलाश बिश्नोई निवासी हिमटसर तहसील नोखा व 4-5 अन्य ने हमला किया। रामेश्वरलाल भागने लगा तो उस पर फायर किया जो उसके शरीर के पीछे लगे। उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.