कल से शुरू होगा दीपोत्सव…लेकिन, रोडवेजकर्मियों को अब भी बोनस का इंतजार

 

 

तहलका न्यूज,बीकानेर। दिवाली का जोर-शोर सभी बाजारों में देखा जा रहा हैं। बाजार सज चुके हैं। लोग खरीदारी करने में जुटे हैं।धनतेरस से पांच दिनों का दीपोत्सव पर्व शुरू हो रहा है। इस बार धनतेरस 22 की शाम 6 बजे से शुरू होगी और 23 की शाम 6 बजे तक रहेगी। इस कारण धनतेरस 22 और 23 दोनों दिन मानी जाएगी। 22 की शाम में धन्वंतरि पूजा और यम दीपदान के लिए 1-1 मुहूर्त रहेंगे और खरीदारी के लिए पूरा दिन शुभ रहेगा। इस दिन त्रिपुष्कर योग बन रहा है, मान्यता है कि इस योग में किए गए कामों का 3 गुना फल मिलता है।23 को पूरे दिन सर्वार्थसिद्धि योग रहेगा। इसलिए हर तरह की खरीदारी, निवेश और नई शुरुआत के लिए पूरे दिन शुभ मुहूर्त रहेंगे। इस तरह धनतेरस 22 और 23 दोनों दिन मनेगी।धनतेरस पर सोना-चांदी और बर्तन खरीदने की परंपरा भी है। इस दिन शाम को प्रदोष काल में भगवान धन्वंतरि के साथ कुबेर और लक्ष्मी जी की पूजा की जाती है। अकाल मृत्यु से बचने और अच्छी सेहत की कामना से घर के बाहर यमराज के लिए दक्षिण दिशा में एक बत्ती का दीपक जलाया जाता है।

सेहत सबसे बड़ा धन इसलिए धन्वंतरि की पूजा

आमतौर पर लोग धनतेरस को पैसों से जोड़कर देखते हैं लेकिन ये आरोग्य नाम के धन का पर्व है। पूरे साल अच्छी सेहत के लिए इस दिन आयुर्वेद के जनक धन्वंतरि की पूजा होती है। विष्णु पुराण में निरोगी काया को ही सबसे बड़ा धन माना गया है। सेहत ही ठीक न हो तो पैसों का सुख महसूस नहीं होता इसलिए धन्वंतरि पूजा की परंपरा शुरू हुई।

राजस्थान रोडवेज के कर्मचारियों को दिवाली बोनस नहीं मिला

लेकिन, अब तक राजस्थान रोडवेज के कर्मचारियों को दिवाली बोनस नहीं मिला है। अब रोडवेज की ऑफिसर्स ऐसोसिएशन ने रोडवेज कर्मियों को दीपावली पर बोनस व एक्सग्रेशिया भुगतान करने की मांग राज्य सरकार व रोडवेज प्रशासन के सामने उठाई है। एसोसिएशन का कहना है कि राज्य सरकार ने कर्मचारियों के लिए बोनस की घोषणा कर दी है। ऐसे में अब तक रोडवेज की ओर से घोषणा नहीं की गई है, जिससे कर्मचारियों में रोष व्याप्त है।गौरतलब है कि राजस्थान रोडवेज ने बड़ी मुश्किल से दो माह बाद अपने कर्मचारियों के लिए एक माह के वेतन और पेंशन के रूपयों का जुगाड़ किया था। जिससे कर्मचारियों को त्योहार के समय थोड़ी राहत जरूर मिली। लेकिन, दिवाली के त्योहार पर सभी कर्मचारियों को बोनस की उम्मीद होती है। ऐसे में अब तक राजस्थान रोडवेज ने यह घोषणा नहीं की है। बताया जा रहा है कि बोनस के लिए राजस्थान रोडवेज को 10 करोड़ रूपए की आवश्यकता होगी।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.