खनिज अभियंता पर जानलेवा हमला,विडियो हुआ वायरल

तहलका न्यूज,बीकानेर। जिले में जिप्सम माफिया अब खौफनाक होते जा रहे है। इन माफियाओं के गुण्डों ने दशहत फैलाने के लिये मंगलवार को दिन दहाड़े खनि अभियंता ललित मंगल की गाड़ी बीच रास्ते में रोककर उन पर हमला कर दिया। इस वारदात की सूचना मिलने के बाद कोलायत पुलिस मौके पर पहुंची लेकिन तब तक अज्ञात हमलावार भाग छूटे थे। इलाके में बज्जू रोड़ पर हुई हमलेबाजी की इस वारदात को लेकर खनि अभियंता ने अज्ञात हमलावारों के खिलाफ मारपीट और राजकार्य में बाधा पहुंचाने का केस दर्ज कराया है। उन्होने पुलिस को दी अपनी रिपोर्ट में बताया कि वह अपनी टीम के साथ इलाके जिप्सम खानों का निरीक्षण करने के लिये जा रहा था,इसी दौरान बज्जू रोड़ पर कोलायत से सवा किमी दूर गाडिय़ों में सवार होकर आये अज्ञात युवकों ने हमारी टीम की गाड़ी रोक ली और मारपीट कर राजकार्य में बाधा पहुंचाई । जानकारी में रहे कि जिले के कोलायत,बज्जू,दंतौर और खाजूवाला इलाके मे बड़े पैमाने पर हो रहे अवैध खनन की रोकथाम के संभागीय आयुक्त के निर्देश पर टॉस्क फोर्स गठित कर रखी है। लेकिन जिप्सम माफियाओं के खौफ से टॉस्क फोर्स की टीमें खनन इलाकों में जाने से भी घबराती है। इलाके के लोगों का कहना है कि मंत्रियों और नेताओं के संरक्षण में अब बाहुबली हो चुके जिप्सम माफियाओं पर सख्ती से अंकुश नहीं लगाया गया तो आने वाले दिनों में यह माफिया इलाके में तबाही मचा देगें। यह भी पता चला है कि जिप्सम माफियाओं ने इलाके में अपना रूतबा जमानें के लिये गिरोह बना लिये है । इनके गिरोह में कई हार्डकौर अपराधी और कुख्यात बदमाश भी शामिल है।
एक ही फर्म के पास है ठेका
विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार रॉयल्टी ठेका जिप्सम और बीकानेर रॉयल्टी ठेका बजरी और क्ले दोनो ठेके एक ही पार्टी के पास हैं,फर्म अलग अलग है। गत दिनों आपदा मंत्री ने भी सीएम के बीकानेर प्रवास के समय उन्हें ठेकेदारों की अवैध वसूली और गुंडागर्दी से अवगत कराया था जिसके बाद सीएम ने संभागीय आयुक्त,आईजी,एसपी और कलेक्टर की एक घंटे इसी मुद्दे पर क्लास लगाई थी उसके बाद से बीकानेर में ओवरलोड बंद है लेकिन लुका छिपी अवैध खनन किया जा रहा है । जिसकी रोकथाम के लिए कल उक्त अधिकारी ललित कुमार मंगल फील्ड में थे जहां उनके साथ मारपीट हुई । कोलायत थाने में मुकदमा दर्ज हुआ, किंतु अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई। जबकि आगामी कुछ ही दिनों में राज्य में प्रदेशव्यापी अवैध खनन और परिवहन की रोकथाम हेतु एक माह का अभियान चलाया जाना प्रस्तावित है । ऐसी परिस्थिति में कौन अधिकारी फील्ड में कार्यवाही करने जायेगा।
विडियो हुआ वायरल
अभियंता के साथ मारपीट का विडियो भी कई ग्रुपों में वायरल हो रहा है। जिसको लेकर खनिज माफियाओं में हडकंप मचा है। विडियो में मारपीट करने वाले अभियंता की गाड़ी के पीछे गाड़ी भागते देखे जा सकते है और अचानक गाड़ी आगे लगाकर गाली गालौच करते हुए अभियंता से खुलेआम मारपीट कर रहे है। उसके बाद भी अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। दबी जुबां में स्थानीय लोग राजनीतिक दबाव के कारण गिरफ्तारी नहीं होना बता रहे है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.