वन विभाग का काम कर रहे BSF जवान

सीमा सुरक्षा बल (BSF) का काम सीमा पर देश की रक्षा करना है, लेकिन बीकानेर के सीमावर्ती एरिया में अपनों से भी लड़ना पड़ रहा है। हरे भरे पेड़ों को अवैध रूप से काटने वालों के खिलाफ भी अब बीएसएफ के जवान सक्रिय हो गए हैं। बीती रात बीकानेर के खाजूवाला एरिया में बीएसएफ के जवानों ने अवैध रूप से कटे पेड़ों के साथ कुछ युवकों को दबोच लिया। बाद में इन्हें वन विभाग के हवाले कर दिया गया।

गुरुवार देर रात गश्त के दौरान बीएसएफ ने 40 क्विंटल के हरी लकड़ियों के साथ एक ट्रैक्टर को जब्त किया। इस ट्रेक्टर के साथ चार युवकों को भी हिरासत में लिया। बाद में वन विभाग को सूचना दी व ट्रैक्टर रेहड़े सहित चार आरोपियों को वन विभाग 61 हेड रेंज के सुपुर्द कर दिया।

दरअसल, बीएसएफ गश्त के दौरान ही के 17KYD के पास ये ट्रैक्टर मिला। BSF के अधिकारियों के परिवहन के कागजात मांगे, कागजात नहीं मिलने पर ट्रैक्टर को कब्जे में ले लिया। जिसके बाद वन विभाग की टीम ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। खाजूवाला के 25KYD व इसके आसपास से पेड़ काटकर अवैध रूप से परिवहन किया जा रहा था। जिसमें लक्ष्मण राम पुत्र चेतनराम निवासी 4 केवाईडी, संदीप पुत्र गुरुदयाल, अमनदीप पुत्र पुर्णसिंह निवासी 3 वार्ड 14डीओएल, मदनलाल पुत्र रामचन्द्र निवासी 13 डीओएल को वन विभाग की 61 हेड रेंज के द्वारा वन अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज कर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। ये कार्रवाई खाजूवाला के 17KYD के पास की गई‌‌।

अर्से से हो रही है अवैध कटाई

अक्सर देखने को मिलता है कि खाजूवाला क्षेत्र के आसपास लकड़ी काटने के आरा मशीन स्थापित है। वन विभाग समय-समय पर इन आरा मशीन संचालकों पर कार्रवाई भी करती है लेकिन परिणाम नहीं मिला। हरे पेड़ों के काटने का सिलसिला नहीं रुक रहा है। अवैध रूप से आरा मशीन चल रही है, जहां लोग लकड़ी लेकर पहुंच जाते हैं। अवैध रूप से चल रही आरा मशीनों से लकड़ी काटकर जिप्सम फैक्ट्रियों में भेजी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.