युवाओं के प्रेरणा स्त्रोत है बोस,जयंती पर किया याद

तहलका न्यूज,बीकानेर। महाराजा गंगा सिंह विश्वविद्यालय में सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती मनाई गई।सांस्कृतिक कार्यक्रम अधिकारी डॉ सीमा जैन ने बताया कि कुलपति सचिवालय प्रांगण में सुभाष चंद्र बोस की छाया चित्र पर कुलपति प्रोफेसर वी. के. सिंह द्वारा पुष्पांजलि एवं दीप प्रज्वलन के साथ प्रारंभ हुआ। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कुलपति प्रोफ़ेसर वी.के. सिंह ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस आज के युवाओं के प्रेरणा स्रोत है। संघर्ष और बलिदान के पर्याय सुभाष चंद्र बोस ने न केवल भारत बल्कि पूरे विश्व को अपना समाज माना और वृहद दृष्टिकोण के साथ स्वतंत्रता प्राप्ति में अपना योगदान दिया। प्रो सुरेश कुमार अग्रवाल ने कहा कि सुभाष चंद्र बोस के आदर्शों को हमें निजी जीवन में उतारने की आवश्यकता है। अगर हम विद्यार्थियों को ऐसे व्यक्तित्व से भली भांति परिचित कराएं तो इससे विद्यार्थियों में राष्ट्रीयता की भावना का विकास होगा। कुलसचिव यशपाल आहूजा ने सुभाष चंद्र बोस की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि देश आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है तो ऐसे में आज के दिन की महत्ता सर्वोपरि है। विश्वविद्यालय सुरक्षा प्रहरियों का प्रतिनिधित्व करते हुए गजेंद्र सिंह ने आजाद हिंद फौज के गठन और महत्व पर प्रकाश डाला।संचालन डॉ. सीमा जैन ने किया। सुरक्षा प्रहरियों की अगुवाई में विधिवत रूप से सुभाष चंद्र बोस को सलामी देकर राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया। कार्यक्रम में प्रोफेसर ए.के. छंगाणी, डॉ. धर्मेश हरवानी,डॉ. ज्योति लखानी,फौजा सिंह,कमल कांत शर्मा,उमेश शर्मा इत्यादि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.