पचास सालों में बीकानेर बीएसएफ मुख्यालय ने हासिल की ये उपलब्धियां

तहलका न्यूज,बीकानेर। बीकानेर बीएसएफ मुख्यालय के 50 वें स्थापना दिवस पर अनेक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इन पचास वर्षों में बीकानेर मुख्यालय की ओर से अनेक ऐसी उपलब्धियां हासिल की गई। जिसके चलते पूरे देश में मुख्यालय ने अनूठी पहचान स्थापित की है। इन उपलब्धियों व उनके कार्यों की जानकारी देते हुए में डीआईजी पुष्पेन्द्र सिंह राठौड़ ने पत्रकारों को बताा कि इस चिलचिलाती गर्मी में हमारे देश के जवान तपती धूप व उबल रहे मरुस्थल के बीच हमारी व हमारे देश की रक्षा करने के लिए डटे हुए है। सीमा पर डटे जवानों की सेवाएं सराहनीय व प्रशंसनीय है। राठौड़ ने सीमा पर हो रहे बदलाव, उपब्ध करवाए जा रहे संसाधनों तथा आंतकवादियों व सीमा पार से होने वाली तस्करी पर अंकुश लगाने के लिए सुरक्षा व्यवस्था को चौक चौबंद किया गया है। उन्होंने कहा कि 11 मई 1972 को सूरतगढ में राजस्थान एवं गुजरात सीमान्त के अन्तर्गत क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर की स्थापना की गई। ।1 अप्रैल 2004 को क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर को क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर व क्षेत्रीय मुख्यालय श्रीगंगानगर में विभाजित किया गया था। इस दौरान ब्रिगेेडियर रण सिंह क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर के प्रथम उप महानिरीक्षक थे वे अभी तक कुल 28 उप महानिरीक्षकों द्वारा क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर का संचालन किया गया है,जिसमें सीमा सुरक्षा बल काडर के 14, भापुसेवा से 13 व भारतीय सेना से 01 अधिकारी द्वारा क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर का संचालन किया गया है। वे 28वें उप महानिरीक्षक है। उन्होंने बताया कि बावा बीकानेर द्वारा संगनी दुकान का संचालन किया जा रहा है जो कि एक सराहनीय पहल है। इसके अन्तर्गत उचित मूल्य पर घरेलू उत्पाद का व्रिकय किया जाता है। बीकानेर का प्रथम व एकमात्र गोल्फ क्लब क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर में ही है। अत्यन्त मेहनत के उपरान्त इंदिरा गांधी नहर परियोजना का जल क्षेत्रीय मुख्यालय बीकानेर को प्राप्त हो रहा है।
अब तक हासिल की ये उपलब्धियां
शेखावत ने बताया कि बीएसएफ की ओर से अनेक प्रकार की कार्यवाहियां की गई है। जिसमें पांच अत्याधुनिक हथियार,43 चीनी पिस्तोल,22 ग्रेनेड,3 देशी हथियार,एक 12 बोर दुनाली, 8 तस्करों से 285 करोड कीमत की 56.501 किलोग्राम हैरोइन,78 लाख कीमत का 15.6 किलोग्राम अफ ीम,12 तस्करों सहित 24 लाख 57 हजार की 1,26,000 प्रतिबंधित दवायें,तीन तस्करों से 1,35,000 से भारतीय जाली मुद्रा को पकड़ा गया है। साथ ही 3 पाकिस्तानी आंतकवादी व 3 पाकिस्तानी घुसपैठिये ढेर किये जा चुके है व 12 घुसपैठियों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.