रात को बारिश में नहाया बीकाणा, सुबह कंपकपाने वाली ठंड, आज के लिए अलर्ट जारी

बीकानेर। पश्चिमी विक्षोभ पूरी तरह सक्रिय है और मावठ से किसानों के चेहरे से पर एक बार फिर खुशी दिखाई दे रही है। बीकानेर में शुक्रवार की रात बारिश का दौर चलता रहा तो शनिवार सुबह भी बादलवाही ने लगातार दूसरे दिन रिमझिम के संकेत दिए। बीकानेर में 21 व 22 जनवरी को बारिश होने की मौसम विभाग ने पहले ही भविष्यवाणी कर दी थी। बारिश के बाद शनिवार को तापमान में भी गिरावट आई है, जिससे सर्दी का अहसास बढ़ गया है। तेज हवाओं के चलते लोग घरों से बाहर निकलने से बचते रहे।

वेस्टर्न डिस्टरबेंस के चलते न सिर्फ बीकानेर बल्कि जोधपुर संभाग में भी शुक्रवार की रात अच्छी बारिश हुई। ऐसे में पश्चिमी राजस्थान के बड़े हिस्से में बारिश हुई है। बीकानेर शहर के अलावा गांवों में भी तेज बारिश हुई है। बीकानेर में रात दस बजे बाद तेज बारिश हुई जो साढ़े ग्यारह बजे तक रुक रुक होती रही। इसका असर सुबह तक देखा गया। अभी भी बादलों की आवाजाही बनी हुई है।
शनिवार को यहां यलो अर्लट
जयपुर मौसम केंद्र के मुताबिक शनिवा को जयपुर सहित 20 जिलों में बारिश और पांच जिलों में ओलावृष्टि के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। इससे तापमान में गिरावट और एक बार फिर सर्दी बढ़ेगी। आज जयपुर, झुंझुनू, सीकर और चूरू जिलों में ओलावृष्टि के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। वहीं, जयपुर, अजमेर, अलवर, भरतपुर, दौसा, धौलपुर, झुंझुनू, करौली, सीकर, सवाई माधोपुर, टोंक, कोटा, बूंदी, बीकानेर, चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, नागौर, जोधपुर, पाली जिलों में कहीं कहीं पर मेघगर्जन के साथ बारिश के लिए यलो अलर्ट जारी किया है।
विवाह समारोह में बाधा

21 से 23 जनवरी तक बीकानेर में बड़ी संख्या में विवाह समारोह है। ऐसे में बारिश ने खलल पैदा कर दिया है। दरअसल बड़ी संख्या में लोगों ने कोरोना गाइड लाइन के चलते अपने अपने घरों के आगे ही टेंट लगाकर विवाह का निर्णय किया है। ऐसे में बारिश ने पहले से फिकी हुई रंगत को और भी फीका कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.