दलित समाज पर अत्याचार बर्दाश्त नहीं : अताउल्ला

तहलका न्यूज,बीकानेर। सर्वसमाज संघर्ष समिति की ओर से बीकानेर कलेक्ट्रेट पर लगातार बढ़ रही अपराधिक घटनाओं के विरोध में धरना लगाया गया वहीं जालौर में ‘मटकी कांड’ में हुई छात्र इंद्र कुमार मेघवाल की मृत्यु पर इंद्र को श्रद्धांजलि भी दी गयी। इस धरने को बहुजन समाज पार्टी [बसपा] की ओर से जिला प्रभारी अताउल्ला व कार्यकर्ताओं की ओर से समर्थन दिया गया व इंद्र को अपनी ओर से श्रद्धांजलि भी दी। बसपा नेता अताउल्ला ने कहा कि दलित समाज पर अत्याचार किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अगर दलित समाज पर अत्याचार हुआ तो अबकी बार आर-पार की लड़ाई होगी। बीकानेर ही नहीं पूरे राजस्थान में दलित-मुस्लिम समाज एकजुट होकर मुकाबला करेंगे। अताउल्ला ने यह भी कहा कि भारत का कानून ना गीता से, ना कुरान से ना बाईबिल से चलता है। भारत का कानून बाबा साहेब के संविधान से चलता है। उन्होंने यह भी कहा कि आने वाले राजस्थान विधानसभा चुनाव-2023 में बसपा के समर्थन से ही सरकार बनेगी। कोई भी दल बिना बसपा के सरकार नहीं बना पाएगा। सरकार बनते ही दलित समाज पर अत्याचार नहीं होगा। जिसका राजा होगा उसकी प्रजा पर कभी भी जुल्म-ज्यादती नहीं होगी। अन्य उपस्थितजनों में लखीराम बीबान, कांशी राम मेघवाल, प्रेम महरिया, एडवोकेट वीरबहादुर उदयरामसर, शिवदान मेघवाल, भीम सेना प्रदेशाध्यक्ष महेंद्र मेघवाल, आम आदमी के पुनीत ढाल, एड सुनीता हाटीला, रुखमा भीम सेना, शिवलाल तेजी, प्रेम नायक, सोहन द्रविड़ भीम आर्मी, जितेन्द्र नायक, राजेन्द्र बापेऊ, जेठाराम लाखूसर, रविदास बौद्ध, डॉ मोहनलाल जोइया, मगनाराम केड़ली, रामदेव लंगा, नेमीचंद हाटीला, एडवोकेट सुखाराम दावा, भागीरथ मान, पुनम चंद गोयल, राजकुमार हटीला, राहुल सिद्धार्थ, प्रताप कांटिया, संजय देशनोक, रघुवीर चौधरी सहित हजारों लोग एक दिन के सांकेतिक धरने में पहुंचकर विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए। वक्ताओं ने एक स्वर में कहा कि राजस्थान में लगातार अपराधिक घटनाएं बढ़ रही है। जिससे आमजन अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहा है। वक्तओं ने जालौर में हुए दलित छात्र इंद्र मेघवाल हत्यकांड की भी निंदा करते हुए सरकार से दोषी को सख्त से सख्त सजा दिलाने की मांग की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.