प्रतिभाओं का किया सम्मान, देश भक्ति के गूंजे तराने

धूमधाम से मनाया गया आर्यन पब्लिक सैकण्डरी स्कूल का वार्षिकोत्सव

तहलका न्यूज,बीकानेर।आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत आर्यन पब्लिक सैकण्डरी स्कूल में वार्षिक समारोह मनाया गया।  मुख्य अतिथि डॉ. गौरव बिस्सा, एसोसिएट प्रोफेसर, ईसीबी एवं मोटिवेशनल स्पीकर, विशिष्ट अतिथि सीए सुधीश शर्मा,  एडीईओ सुनील बोड़ा, वरिष्ठ सदस्य, विद्यालय प्रबंध समिति डॉ. धीरज कल्ला, प्राचार्य डॉ. सुरेश पुरोहित,एवं सहायक आचार्य बेसिक पी.जी. कॉलेज श्रीमती प्रभा बिस्सा  रहे तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता विद्यालय प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष रामजी व्यास ने की।कार्यक्रम का शुभारम्भ माँ सरस्वती की पूजा-अर्चना के साथ किया गया। इस अवसर पर विद्यालय के शिक्षक  हिमांशु रंगा द्वारा विद्यालय परिचय प्रस्तुत करते हुए विद्यालय की प्रगति के बारे में बताया गया। कार्यक्रम में छात्रों को संबोधित करते हुए विशिष्ट अतिथि  सुनील बोड़ा ने आजादी के अमृत महोत्सव पर विद्यालय के इस कार्यक्रम की सराहना करते हुए बताया कि छात्र अपने अध्ययन काल में कड़ी मेहनत करें। इसी से वह अपने आने वाले भविष्य को बेहतर बना सकते हैं। वार्षिक समारोह से बच्चों की छिपी हुई प्रतिभा का विकास होता है। बच्चे अपनी भावनाओं को खुलकर व्यक्त कर पाते हैं। विशिष्ट अतिथि सीए सुधीश शर्मा ने भारत सरकार के स्वच्छता अभियान पर जोर देते हुए छात्रों को संबोधित किया और कहा कि विद्यार्थियों को एक लक्ष्य निर्धारित कर आगे बढ़ते हुए अपने जीवन में ऊंचा मुकाम हासिल करना चाहिए।कार्यक्रम के दौरान विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने देशभक्ति गीतों के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी और बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, कन्या भ्रूण हत्या, स्वच्छता पर विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने नाटक की प्रस्तुति देकर उपस्थित लोगांें को समाज में व्याप्त कुरीतियों को मिटाकर जागरूकता लाने का संदेश दिया। जिसका उपस्थित अभिभावकों ने जमकर तालियां बजा करके अपनी खुशी का इजहार किया और साथ ही साथ बच्चों का उत्साहवर्द्धन भी किया। इस अवसर पर राजस्थान बोर्ड एवं विद्यालयी परीक्षाओं में अव्वल रहे प्रतिभावान विद्यार्थियों का शाला परिवार द्वारा पुरस्कृत भी किया गया।इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप मंे छात्रों को संबोधित करते हुए मोटिवेशनल गुरु डॉ. गौरव बिस्सा ने बताया कि संस्कारवान शिक्षा आज के युग में बहुत ही प्रासंगिक है। बच्चांे को संस्कारवान और मूल्यपरक शिक्षा देकर उनके जीवन स्तर को तथा उनकी सामाजिकता को आज के माहौल में आगे बढ़ाया जा सकता है। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि डॉ. सुरेश पुरोहित ने छात्रों को संबोधित करते हुए बताया कि आजादी के अमृत महोत्सव पर आजादी के बाद देश की अनगिनत उपलब्धियों को जानने का अवसर है ताकि देश की युवा पीढ़ी स्वतंत्रता और लोकतंत्र को सही मायने में समझ सके। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि के रूप में छात्रांे को संबोधित करते हुए श्रीमती प्रभा बिस्सा ने शिक्षा के महत्व पर प्रकाश डालते हुए विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना की।इस अवसर पर कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए विद्यालय प्रबंध समिति के अध्यक्ष  रामजी व्यास ने बताया कि शिक्षा के साथ ही स्वास्थ्य सुरक्षा भी बहुत जरूरी है। इसलिए सभी को चाहिए कि निरोगी रहने के लिए प्रतिदिन, कसरत के साथ खान-पान पर ध्यान दें। व्यास ने बताया कि अधिकांश लोगों का मकसद पढ़-लिखकर अच्छी नौकरी हासिल करना होता है जबकि जीवन मंे एक अच्छा इंसान बनना उससे भी कहीं ज्यादा जरूरी होता है।कार्यक्रम के अन्त में प्रबन्ध समिति के अध्यक्ष रामजी व्यास एवं वरिष्ठ सदस्य डॉ. धीरज कल्ला द्वारा पधारे हुए अतिथियों का शॉल एवं प्रतीक चिह्न भेंट कर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विद्यालय के प्रतिभावान शिक्षकों को भी सम्मानित किया गया।कार्यक्रम का मंच संचालन ज्योति प्रकाश रंगा एवं  रोहित बोड़ा ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के शिक्षक हरिप्रसाद व्यास, ज्योति कल्ला, अपूर्वा व्यास, मुकेश व्यास, रीतु पारीक, अमन गहलोत, पूजा मदान, हिमांशु रंगा, प्रीति ओझा, नीलेश करनाणी, अमरनाथ व्यास, विजयलक्ष्मी, अनिता, उर्मिला, शिखा, ममता, हेमलता आदि स्टाफ सदस्यों का उल्लेखनीय योगदान रहा।

 

स्वतंत्रता के 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में तिरंगे झण्डों का वितरण

आजादी के अमृत महोत्सव के अन्तर्गत बेसिक पी.जी. महाविद्यालय में अनेक कार्यक्रमों का आयोजन रखा गया। देशभक्ति की भावना और देश के लिए मर मिटने का जज्बा हर युवा के दिलों में होता है। इस वर्ष 75वीं स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर भारत आजादी का अमृत महोत्सव मना रहा है। देश भक्ति हमें अपने देश से प्यार करने और संपूर्ण मानवता को गले लगाना सिखाती है। आज की युवा पीढ़ी देश प्रेम और देशभक्ति की भावना को बेहतर तरीके से समझ सके, भारत नशा मुक्त हो सके इसके लिए युवाओं को संकल्पित होना आवश्यक है। इसी उद्देश्य को ध्यान में रखकर आजादी के अमृत महोत्सव पर बेसिक पी.जी. महाविद्यालय में तरह-तरह के कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं, ताकि छात्र-छात्राएं राष्ट्रध्वज, देश प्रेम की भावना से ओत प्रोत हो सकें। इन कार्यक्रमों में रंगोली प्रतियोगिता, तिरंगा यात्रा, भाषण प्रतियोगिता, पेंटिंग प्रतियोगिता, रील्स (शॉट वीडियो) प्रतियोगिता, प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता आदि शामिल हैं। इस संबंध में प्राचार्य डॉ. सुरेश पुरोहित ने कहा कि महाविद्यालय में इस तरह के कार्यक्रमों का प्रमुख उद्देश्य देशभक्ति की भावना, मन में पवित्र भावना, स्वतंत्रता सेनानियों के संघर्ष और उनके बलिदान को संजो कर रखने की भावना जागृत करना है। इसलिए महाविद्यालय अपने छात्र-छात्राओं से यह आशा करता है कि सभी छात्र अपने देश से प्रेम करें और अपने कार्यों में इसे दिखाएं। ‘‘हर घर तिरंगा’’ की तर्ज पर महाविद्यालय के सभी विद्यार्थियों को तिरंगे भी वितरित किए गए। इन सभी कार्यक्रमों में महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं का उत्साह एवं भागीदारी राष्ट्र के उज्ज्वल भविष्य की ओर इशारा करती है।अमृत महोत्सव के विभिन्न कार्यक्रमांे के सफल संचालन हेतु महाविद्यालय स्टाफ सदस्य डॉ. मुकेश ओझा, डॉ. रमेश पुरोहित, डॉ. रोशनी शर्मा,  वासुदेव पंवार,  शिवशंकर उपाध्याय, श्रीमती माधुरी पुरोहित, श्रीमती प्रभा बिस्सा,  सौरभ महात्मा, सुश्री संध्या व्यास, सुश्री श्वेता पुरोहित, श्रीमती जयश्री, गणेश दास व्यास, लोकेश पुरोहित, सुश्री प्रीति पुरोहित, श्रीमती दीपिका व्यास, सुश्री ज्योत्सना पुरोहित,  हितेश पुरोहित,  महेन्द्र आचार्य का उल्लेखनीय योगदान रहा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.