इस बात से नाराज होकर पानी की टंकी पर चढ़ा किसान

दो घंटे की मशक्कत के बाद नीचे उतरा

तहलका न्यूज,बीकानेर। अनाज मंडी में गुरुवार को उस समय हड़कंप मच गया जब एक किसान व्यापारियों पर कई तरह के आरोप लगाते पानी की टंकी पर चढ़ गया। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद बीछवाल पुलिस ने उसे नीचे उतारा। ये किसान जसरासर थाना क्षेत्र के मंसूरी गांव का मालाराम बेनीवाल था।दरअसल, मंडी में कुछ दिन से मजदूरों और व्यापारियों के बीच विवाद चल रहा है। मजदूरों का आरोप है कि मूंगफली की ढेरी सही नहीं लग रही है। इससे मजदूरों को परेशानी हो रही है। इतना ही नहीं मूंगफली में मिट्‌टी और घास के टुकड़े होने की शिकायत भी की गई। इस मुद्दे पर मजदूर और व्यापारियों के बीच वार्ता चल रही थी। इसी दौरान मालाराम भी वहां पहुंच गया। उसने भी व्यापारियों पर आरोप लगाए। इस पर कुछ लोगों ने उसे किनारे किया लेकिन वो वापस आ गया। व्यापारियों और किसान मालाराम के बीच काफी देर तक वाद विवाद होता रहा। बाद में नाराज होकर मालाराम पानी की टंकी पर जा चढ़ा। इसके बाद व्यापारी भी मौके पर पहुंच गए। उसे समझाने का प्रयास किया लेकिन वो नीचे नहीं उतरा। ऐसे में बीछवाल पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने भी काफी देर तक समझाइश करके उसे नीचे उतारा। इस दौरान तनाव का माहौल बना रहा।अनाज मंडी कच्ची आढ़त संघ के मोतीलाल सेठिया ने बताया कि व्यापारियों और मजदूरों के बीच का मसला था लेकिन बेनीवाल बीच में ही पहुंच गए। विवाद बढ़ा तो वो टंकी पर चढ़ गया। सेठिया ने बताया कि मजदूर अपनी जायज मांगों को लेकर व्यापारियों से वार्ता कर रहे हैं। मंडी में शौचालय, विश्राम सहित कई समस्याएं हैं। इसके अलावा झाला और ढेरी लगाने पर भी मजदूरों की आपत्ति है। इन सभी पर मंडी सचिव से वार्ता की जा रही है।
नहीं हो सकी बोली
इस विवाद के चलते गुरुवार को मंडी में बोली नहीं हो सकी। हर रोज करीब एक से डेढ़ लाख बोरी के बीच बोली लगती है लेकिन गुरुवार को बोली नहीं हुई। अब शुक्रवार को फिर से बोली शुरू होगी। सेठिया का दावा है कि आने वाले दिनों में बीकानेर में करीब एक करोड़ बोरी का व्यापार होने की उम्मीद है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.