आखिर क्यों फूंका प्रधानमंत्री का पुतला,जाने वजह

तहलका न्यूज,बीकानेर। कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्षा सोनिया गांधी व पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी पर केन्द्र द्वारा ईडी की कार्यवाही के विरोध में कांग्रेस के अग्रिम संगठन सेवादल की ओर से कोटगेट पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह का पुतला फूंककर विरोध जताया गया। प्रदर्शनकारियों ने इस कार्यवाही को केन्द्र सरकार की हिटलरशाही नीति बताते हुए जमकर नारेबाजी की। सेवादल के शहर के संगठक अनिल व्यास की अगुवाई में किये गये प्रदर्शन में कांग्रेस का आरोप है कि केन्द्र सरकार ईडी व अन्य जांच एजेन्सियों का सहारा लेकर बेवजह परेशान कर रही है।प्रदर्शन करने वालों में मिर्जा हैदर बेग,हनुमान व्यास,धनसुख आचार्य सहित अनेक जने शामिल रहे। बता दें कि यह मामला एक नवंबर 2012 को तब शुरू हुआ जब दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में सुब्रमण्यम स्वामी ने एक केस दायर किया। इस मामले में सोनिया गांधी और राहुल गांधी के अलावा वरिष्ठ कांग्रेस नेता मोतीलाल वोरा, आस्कर फर्नांडिस, सुमन दुबे और सैम पित्रोदा को आरोपी बनाया गया था। मोतीलाल वोरा व आस्कर फर्नांडिस का निधन हो चुका है। अब यह मामला वर्तमान में राउज एवेन्यू स्थित विशेष अदालत में चल रहा है।कांग्रेस नेताओं पर आरोप है कि यंग इंडियन प्राइवेट लिमिटेड के माध्यम से एसोसिएटेड पत्रिकाओं के 90.25 करोड़ रुपये की वसूली का अधिकार प्राप्त किया गया, जबकि इस अधिकार को पाने के लिए सिर्फ 50 लाख रुपये का भुगतान किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.