आखिर इस चिलचिलाती धूप में सड़कों पर क्यों उतरे अधिवक्ता

तहलका न्यूज,बीकानेर। श्रीगंगानगर जिले के घडसाना तहलील के अधिवक्ता विजयसिंह झोरड़ के साथ घड़साना पुलिस द्वारा किये गये अमानवीय व्यवहार व मारपीट का विरोध बीकानेर में भी देखने को मिला है। जिसके चलते न केवल अधिवक्ताओं ने कार्य बहिष्कार किया। बल्कि स्वरूप प्रदर्शन कर जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा गया है। बीकानेर बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुरेन्द्रपाल शर्मा व सभापति आर के दास गुप्ता की अगुवाई में सौंपे ज्ञापन में अधिवक्ताओं ने रोष जताया कि कानून के रक्षकों के साथ ही पुलिस इस प्रकार का व्यवहार करेगी तो आमजन की क्या स्थिति होगी। झोरड़ के साथ मारपीट,दुव्र्यवहार व अमानवीय कृत्य करने वाले पुलिसकर्मियों के विरूद्व अनुशासनात्मक कार्यवाही करते हुए उन्हें बर्खास्त किया जावें। इस मौके पर गणेश चौधरी,अजय पुरोहित,बच्छराज कोठारी,सतपाल साहू,रविकांत वर्मा,संतनाथ योगी,किशन सांखला,दाऊलाल हर्ष,भागीरथ मान,संतोष जोशी,कुंदन व्यास,रईस अहमद,मधुबाला,रोशन आरा,अवनीश हर्ष,मनीराम कासनियां,सुरेन्द्र पुरोहित,जितेन्द्र विश्नोई,जगदीश शर्मा,प्रेम गोदारा,हनुमान विश्नोई,अजय ओझा,बाबूलाल स्वामी,दिलीप सिंह आडसर,देवेन्द्र गुर्जर,ओम प्रकाश व्यास,शिव भादाणी,फारूख भुट्टो,हरीश कोठारी,रज्जाक भाटी,बंसत व्यास,नवनीत व्यास,गौतम सुराणा,हेमाराम जाखड़ सहित अनेक अधिवक्तागण मौजूद रहे।
पुलिसकर्मियों से हुई उलझाहट
प्रदर्शन के दौरान ज्ञापन देने के लिये एक शिष्टमंडल जाने की बात को लेकर यहां खड़े पुलिस के जवानों व आरएसी के जवानों से बोलचाल भी हो गई। हालाकि बाद में समझाईश कर मामला शांत करवाया गया।


Leave a Reply

Your email address will not be published.