आखिर कुकणा ने कलेक्ट्रेट पर क्यों दिखाई ताकत,जाने वजह

तहलका न्यूज,बीकानेर। बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के छात्र-छात्रायें जैसे ही राजकीय डूंगर महाविद्यालय के मुख्य द्वार पर एकजुट होकर कुलपति आवास के घेराव के लिए प्रस्थान करने लगे तब ज़िला प्रशासन द्वारा सूचना मिली की विद्यार्थियों के आवास घेराव की सूचना के कारण कुलपति अपना आवास छोड़कर कहीं अन्यत्र चले गये है,विद्यार्थियों की माँगों पर संवेदनशीलता दिखाने हुए ज़िला प्रशासन ने छात्रप्रतिनिधि मंडल को वार्ता हेतु बीकानेर ज़िला मुख्यालय आमंत्रित किया,इसलिए कुलपति के आवास पर उपस्तिथ नहीं होने की स्तिथि में छात्र-छात्राओं ने राजकीय डूंगर महाविद्यालय से पैदल रैली निकालकर ज़िला मुख्यालय जाने का निर्णय लिया व ज़िला प्रशासन से वार्ता की।
एनएसयूआई के पूर्व ज़िलाध्यक्ष रामनिवास कुकणा ने कहा की कुलपति द्वारा झूठी साज़िश करके राज्य सरकार की छवि को ख़राब करने की कोशिश की जा रही है क्योंकि बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति पूर्णत: आरएसएस के दबाव में काम कर रहे है साथ ही कुकणा ने कहा की अपनी दस सूत्री माँगों को लेकर छात्र-छात्राओं द्वारा हड़ताल शुरू करने के पश्चात विद्यार्थियों को गाड़ी के नीचे कुचलने की धमकी देना व विश्वविद्यालय को अनिश्चितकाल तक बंद करने के आदेश जारी कर देना तथा कुलपति के आवास के घेराव की सूचना मिलते ही कुलपति द्वारा अपना आवास छोड़कर अन्यत्र चले जाना उनकी हठधर्मिता व छात्रविरोधी सोच को दर्शाता है जो अतिनिंदनीय है।
छात्रसंघ अध्यक्ष कृष्णकुमार गोदारा ने कहा की बीकानेर तकनीक विश्वविधालय के विद्यार्थी इस लड़ाई में अकेले नहीं है राजकीय डूंगर महाविद्यालय के विद्यार्थी भी इस लड़ाई में पूर्ण सहयोग करने के लिए तैयार है,क्योंकि बीकानेर का सम्पूर्ण छात्रवर्ग इस लड़ाई में एकजुट हैसाथ ही गोदारा ने कहा की लगातार छः दिनों से अपनी दस सूत्री माँगों को लेकर तकनीकी विश्वविद्यालय के विद्यार्थी इस भीषण गर्मी में धरने पर बैठे है उसके बावजूद कुलपति विद्यार्थियों से वार्ता करने के बजाय अपनी जिम्मेदारी से भाग रहे है जो एक लोकतांत्रिक देश में उचित नहीं है। ज़िला प्रशासन व छात्रप्रतिनिधि मंडल की वार्ता के पश्चात ज़िला प्रशासन ने आज शाम तक सकारात्मक परिणाम का पूर्व विश्वास दिलाया। जिसके पश्चात छात्र-छात्राओं ने बीकानेर तकनीकी विश्वविद्यालय के मुख्य द्वार पर चले धरने पर पहुँचकर धरना निरंतर जारी रखा। छात्रप्रतिनिधि मंडल में रामनिवास कुकणा,कृष्णकुमार गोदारा,हर्षित ज्याणी,प्रांशु सिंह,देव माथुर,प्रद्युम्न,हर्ष चतुर्वेदी आदि थे व ज़िला प्रशासन से वार्ता में बीकानेर शहर अतिरिक्त ज़िला कलेक्टर,बीकानेर एसडीएम,सीओ सदर,जेएनवीसी थानाधिकारी व विश्वविद्यालय कमेटी के व्याख्याता आदि उपस्तिथ थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.