आखिर आचार्य और भाजपा जिलाध्यक्ष क्यों रोड भिड़े,की गाली गालौच,देखे विडियो

तहलका न्यूज,बीकानेर। एक ओर तो शहरवासी बीकानेर नगर का स्थापना दिवस पर छत्तों पर पंतगों को काट शोर मचा रहे है। वहीं दूसरी ओर शहर भाजपा की अन्दुरूनी लड़ाई बीच सड़क पेच लड़ाती नजर आई। मामला लक्ष्मीनाथ परिसर का है। जहां भाजपा के पार्षद व शहर अध्यक्ष के बीच जमकर तू-तू मैं-मैं हुई। हालात यहां तक पहुंच गये कि पार्षद ने पतंगों को लात मारकर अपनी भड़ास निकाली। बताया जा रहा है कि कार्यक्रमों की सूचना नहीं मिलने से आक्रोशित पुराना शहर मंडल नाराज चल रहा था। इस बीच उन्हीं मंडल क्षेत्र में जब पतंग वितरण को लेकर आयोजित इस कार्यक्रम में शहर अध्यक्ष अखिलेश प्रताप सिंह को पार्टी किसी के बाप के होने की बात तक कह डाली। हालांकि पार्टी के वरिष्ठ लोगों ने बीच बचाव तक किया लेकिन पार्षद मानने को तैयार नहीं हुआ। आखिर कार्यक्रम को बीच में ही स्थगित कर लोग रवाना हो गये। जानकारी मिली है कि भाजपा पुराना शहर मंडल के पतंग वितरण कार्यक्रम के दौरान पार्षद किशोर आचार्य ने आयोजन नहीं होने की सूचना दी। इस दौरान मंडल अध्यक्ष कमल आचार्य व अन्य कार्यकर्ता भी वहां पहुंच गये। बातचीत आखिरकार जबरदस्त वादविवाद में तब्दील हो गई और हाथपाई तक की नौबत आ गई। बताया जा रहा है कि पार्षद ने गाली गलौच तक की। किशोर आचार्य का कहना है कि भाजपा जिलाध्यक्ष की ओर सेपुराना शहर मंडल लंबे समय से उन्हें जानबूझकर कार्यक्रमों की सूचना नहीं देता है। इसकी शिकायत शहर अध्यक्ष व मंत्री से भी कई बार की जा चुकी मगर कोई सुनवाई नहीं। वहीं अखिलेश प्रताप ने कहा कि इन्हें ग्रुप में जोड़ा हुआ था,ये स्वयं ग्रुप से लेफ्ट हुए है। ऐसे में किसी को व्यक्तिगत सूचना देना कभी कभी रह जाता है।


Leave a Reply

Your email address will not be published.