35 दिव्यांगों को मिलेंगे कृत्रिम अंग, 17 केलीपर्स माप लिये

नारायण सेवा संस्थान व सहभागी रामलाल सूरजदेवी रांका चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा शिविर आयोजित
123 दिव्यांगों का हुआ रजिस्ट्रेशन, 20 जनों का होगा ऑपरेशन

तहलका न्यूज,बीकानेर।किसी भी मनुष्य में शारीरिक कमी होना कोई दोष नहीं है। ईश्वर ने यदि कुछ कमी की है तो उस कमी की भरपाई भी जरूर करता है, हमें सेवा और सहायता के लिए सदैव तत्पर रहना चाहिए। यह विचार रविवार को हंशा गेस्ट हाउस में भाजपा लघु उद्योग प्रकोष्ठ प्रदेश के प्रदेश सहसंयोजक महावीर रांका ने नारायण सेवा संस्थान द्वारा आयोजित शिविर के शुभारम्भ अवसर पर दीप प्रज्ज्वलन के दौरान व्यक्त किए। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि हंसराज डागा, सुभाष गोयल, हनुमानमल रांका, मुकेश जोशी, पूर्व पार्षद सरलादेवी पडि़हार व मधु शर्मा द्वारा दीप प्रज्ज्वलन किया गया। नारायण सेवा संस्थान द्वारा आयोजित इस शिविर में बीकानेर से सहभागी बनी रामलाल सूरजदेवी रांका चैरिटेबल ट्रस्ट के पवन महनोत ने बताया कि शिविर में दिव्यांग जांच, ऑपरेशन हेतु चयन व कृत्रिम अंगों हेतु आवेदकों के माप लिए गए। अब जिनका चयन हुआ है उनका संस्थान के मुख्यालय उदयपुर स्थित अस्पताल में ऑपरेशन किया जाएगा तथा बीकानेर के आवेदकों को उदयपुर में ऑपरेशन हेतु जाने-आने की व्यवस्था भी ट्रस्ट द्वारा की जाएगी। शिविर में रामलाल सूरजदेवी रांका चैरिटेबल ट्रस्ट की ओर से दिव्यांगों को तीन वॉकर, दो छड़ी व दो ट्राइसाइकिल प्रदान किए गए। ट्रस्ट के रमेश भाटी ने बताया कि शिविर में राजेन्द्र शर्मा, मधुसूदन शर्मा, आनन्द सोनी, पंकज गहलोत, गौरीशंकर देवड़ा, लक्की पंवार, जय उपाध्याय, तेजाराम राव, शंभु गहलोत, मोहित बोथरा, शंकरसिंह राजपुरोहित, गणेश जाजड़ा, टेकचंद यादव, आदर्श शर्मा आदि उपस्थित रहे।
उड़ान पंख से नहीं हौसलों से भरी जाती है : रांका
शिविर में जब एक दिव्यांग बालिका को वॉकर दी गई तो उसके आंखों में बेहद खुशी नजर आई। यही नहीं पूर्व यूआईटी चैयरमेन महावीर रांका ने जब उसे वॉकर दी और सहारा देकर उसके साथ चलना सिखाया तो बालिका के चेहरे पर प्रसन्नता नजर आई और उसने वॉकर के सहारे चलकर दिखाया। भामाशाह रांका ने कहा कि उड़ान पंख से नहीं हौसलों से भरी जाती है। हम सबका का कर्तव्य है कि हमें सेवा व सहायता का मार्ग अपनाना चाहिए।
नारायण सेवा संस्थान 37 वर्षों से सेवा को समर्पित :शर्मा
संस्थान अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि संस्थान देश के हजारों दिव्यांगों को मोड्यूलर लिम्स, अत्याधुनिक कृत्रिम अंग लगा चुका है, जिससे उनकी जिन्दगी की राह आसान हुई है। नारायण सेवा संस्थान के शाखा प्रेररक मुकेश शर्मा ने बताया कि दिव्यांग एवं पीडितजनों की सेवा में 37 वर्षो से समर्पित नारायण सेवा संस्थान द्वारा ऐसे शिविर आयोजित कर सच्ची सेवा का कार्य किया जाता है। रविवार को नोखा रोड स्थित हंशा गेस्ट हाउस में आयोजित इस शिविर में १२३ दिव्यांगों का रजिस्ट्रेशन हुआ जिसमें से 35 जनों के कृत्रिम अंग माप लिए गए तथा 17 केलीपर्स माप लिये गये व 20 दिव्यांगों के ऑपरेशन चयन किया गया। मुकेश शर्मा ने बताया कि शिविर में भगवती पटेल, कपिल व्यास, हरीशसिंह रावत, देवी लाल, डॉ. गौरव व डॉ. सिद्धार्थ लाम्बा ने अपनी सेवाएं प्रदान की।


Leave a Reply

Your email address will not be published.