निगम आयुक्त को भेजा छुट्टी पर,धरना हुआ समाप्त

तहलका न्यूज,बीकानेर। नगर निगम की महापौर और आयुक्‍त के बीच चल रहे विवाद के बीच आयुक्‍त गोपाल राम बिरदा को छुट्टी पर भेज दिया गया है। भाजपा नेताओं ने यह दावा करते हुए अनिश्‍चितकालीन धरना समाप्‍त कर दिया है। धरना समाप्ति पर जहां भाजपा नेताओं ने मिठाईयां बांटकर खुशियां मनाई। लेकिन राजनीतिक जानकारों की माने तो यह महज सम्मान स्वरूप धरना समाप्त कर भाजपा ने अपनी लाज बजाई है। जबकि यह पहले ही दिन संभागीय आयुक्त को दिए ज्ञापन में आयुक्त को छुट्टी पर भेजकर एक बारगी हटाने की कहानी घड़ी जा चुकी थी। जिसकी परिणति आज हुई है। वैसे राजनीतिक रूप से इसे अलग अलग मायनों में देखा जा रहा है। कोई इसे महापौर की जीत बता रहा है तो कोई शिक्षा मंत्री डॉ कल्ला की राजनीतिक हार। लेकिन धरने के पहले ही दिन सम्मानजनक धरना उठाने के लिये महापौर समर्थक रास्ते ढूढऩे में जुट गये थे। आपको बता दें कि आयुक्‍त से विवाद के चलते महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित, उपमहापौर राजेन्‍द्र पंवार व भाजपा नेता कलक्‍ट्रेट के समक्ष धरने पर बैठ गए। इस बीच, आज वरिष्‍ठ भाजपा नेता सत्‍यप्रकाश आचार्य ने धरनार्थियों को बताया कि आयुक्‍त को हटा दिया गया है तथा उनके पास पर ए.एच. गौरी को नगर निगम आयुक्‍त का अतिरिक्‍त चार्ज दिया गया है। इस दौरान महापौर सुशीला कंवर राजपुरोहित ने इसे लोकतांत्रिक व्‍यवस्‍था तथा भाजपा कार्यकर्त्‍ताओं के संघर्ष की जीत बताया। हालांकि, आयुक्‍त को छुट्टी पर भेजने संबंधी आदेश की प्रति भाजपा नेताओं ने साझा नहीं की है। इधर, ए.एच. गौरी ने बातचीत में बताया कि वे अभी बीकानेर से बाहर है तथा उन्‍हें चार्ज मिलने के संबंध में कोई जानकारी नहीं है। उपमहापौर राजेन्‍द्र पंवार, महामंत्री मोहन सुराणा,प्रदीप उपाध्‍याय, मनीष सोनी ने भी इसे कार्यकर्त्‍ताओं की एकता की जीत बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.