बिना जाति प्रमाण-पत्र  जॉइन कर सकेंगे सरकारी नौकरी, जानिए…पूरी प्रोसेस

जयपुर।राजस्थान में सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे कैंडिडेट्स को CM अशोक गहलोत ने बड़ी राहत दी है। OBC (अदर बेकवर्ड क्लास), MBC (मोस्ट बेकवर्ड क्लास) और EWS (इकनॉमिक वीकर सेक्शन) कैटेगरी के कैंडिडेट्स को अब नौकरी जॉइन करते समय जाति प्रमाण पत्र देने की बाध्यता खत्म कर दी गई है। जिन कैंडिडेट्स के पास जाति प्रमाण पत्र नहीं है, वो शपथ पत्र देकर नौकरी जॉइन कर सकते हैं। आइए जानते हैं, जॉइनिंग के बाद आखिर कास्ट सर्टिफिकेट सबमिट करना होगा या नहीं।

कैंडिडेट्स को राहत
इस बाबत CM गहलोत ने आदेश जारी कर दिया है। यह स्पष्ट है कि बाद में लेटेस्ट कास्ट सर्टिफिकेट सबमिट करना जरूरी है। ऐसा नहीं करने पर संबंधित विभाग नियमानुसार कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र होगा। सरकार के इस फैसले से ग्राम विकास अधिकारी, कंप्यूटर अनुदेशक, पशुधन सहायक और कनिष्ठ अभियंता भर्ती परीक्षा के अभ्यर्थियों को बड़ी राहत मिली है।

प्रदेश भर में हुआ था विरोध
20 जनवरी को सरकार ने एक आदेश जारी किया था। इसमें जॉइनिंग से पहले OBC, MBC और EWS कैटेगरी के अभ्यर्थियों को जाति प्रमाण पत्र देना अनिवार्य था। यह भी बाध्यता थी कि यह प्रमाण पत्र भर्ती प्रक्रिया में आवेदन करने से पहले का हो चाहिए। इस फैसले से बड़ी संख्या में अभ्यर्थी भर्ती परीक्षा से बाहर हो गए थे। इसके बाद जयपुर समेत प्रदेशभर में युवाओं ने सरकार के इस आदेश का विरोध किया था।

6 लाख कैंडिडेट्स को सीधा फायदा
माना जा रहा है कि युवाओं का विरोध देख सरकार बैकफुट पर आई है। गहलोत ने ट्वीट कर स्पष्ट कर दिया है कि जॉइनिंग के समय कास्ट सर्टिफिकेट की बाध्यता नहीं है। कैंडिडेट्स बाद में सर्टिफिकेट सबमिट कर सकते हैं। जॉइनिंग के समय शपत्र पत्र देना है। इसका सीधा फायदा पशुधन सहायक सीधी भर्ती परीक्षा-2021, JEN के लिए सीधी भर्ती परीक्षा-2022, पटवार सीधी भर्ती परीक्षा-2021 और कंप्यूटर अनुदेशक भर्ती परीक्षा के 6 लाख अभ्यर्थियों को होगा।राजस्थान बेरोजगार एकीकृत महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष उपेन यादव ने कहा- अगर सरकार ने हमारी सारी मांगें नहीं मानी तो कांग्रेसी नेताओं का विरोध करेंगे। राहुल गांधी की ‘भारत जोड़ो’ यात्रा को रोकेंगे।

अगले कुछ महीनों में इन विभागों में होनी है जॉइनिंग…

पशुधन सहायक के लिए 2832 स्टूडेंट्स को किया शॉर्टलिस्ट
राजस्थान में पशुधन सहायक के 1436 पदों के लिए कर्मचारी चयन बोर्ड ने तीन महीने पहले 2 हजार 832 स्टूडेंट्स को शॉर्ट लिस्ट किया है। स्टूडेंट्स को डॉक्युमेंट वैरिफिकेशन के बाद मेरिट के आधार पर सिलेक्ट किया जाएगा। इनमें से 197 कैंडिडेट्स को टीएसपी (आदिवासी) एरिया में पोस्टिंग मिलेगी। 1239 कैंडिडेट्स को नॉन टीएसपी एरिया में पोस्टिंग दी जाएगी।

पटवारी भर्ती में 5610 पदों पर सिलेक्ट हुए कैंडिडेट
राजस्थान में 3 साल के लम्बे इंतजार के बाद पटवारी भर्ती परीक्षा का फाइनल रिजल्ट करीब नौ महीने पहले जारी हो गया है। राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने 5610 पदों के पिछले साल 23 और 24 अक्टूबर को दो चरण में भर्ती परीक्षा का आयोजन किया था।

बेसिक-सीनियर कम्प्यूटर इंस्ट्रक्टर के रिजल्ट में 9862 पोस्ट के लिए 7069 ही पास हुए
राजस्थान कर्मचारी चयन बोर्ड ने बेसिक कम्प्यूटर इंस्ट्रक्टर सीधी भर्ती परीक्षा 2022 और सीनियर कम्प्यूटर इंस्ट्रक्टर भर्ती परीक्षा-2022 के परीक्षा परिणाम एक महीने पहले ही जारी हुआ है। बोर्ड ने मिनिमम पासिंग मार्क्स का हवाला देते हुए बेसिक कम्प्यूटर अनुदेशक परीक्षा में सिर्फ 7069 कैंडिडेट्स को ही पास किया है। इनमें नॉन टीएसपी एरिया के 6873 और टीएसपी एरिया के 196 कैंडिडेट्स सफल हुए हैं। नॉन टीएसपी एरिया की 8974 और टीएसपी एरिया की 888 पोस्ट के लिए परीक्षा हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.